लाइव टीवी

मैनपुरी की महिलाओं ने यूपी पुलिस को दिखाया आइना, सुनवाई न होने पर खुद ही आरोपी को पकड़ा और दे दी सज़ा

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2019, 2:01 PM IST
मैनपुरी की महिलाओं ने यूपी पुलिस को दिखाया आइना, सुनवाई न होने पर खुद ही आरोपी को पकड़ा और दे दी सज़ा
मैनपुरी की महिला अदालत में पीड़िता के पैर छूकर माफ़ी मांगता आरोपी

जब 11 दिन तक पुलिस (Mainpuri police) ने छेड़खानी (molestation) की रिपोर्ट नहीं लिखी और पुलिस से न्याय न मिलता देख महिलाओं ने खुद ही न्याय (Justice) करने का फैसला किया. सैकड़ों महिलाओं ने मिलकर अदालत (Court) बैठाई जिसमें बाकायदा आरोपी (accused) ने कान पकड़कर पीड़ित महिला (victim) के पैर छूकर सार्वजानिक रूप से माफ़ी मांगी....

  • Share this:
मैनपुरी. उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) जब अपराधियों को संरक्षण देने लगे तो पीड़ित महिलाएं सुरक्षा (Women safety) की गुहार किससे लगाएं. छेड़खानी (molestation) के मामले में पुलिस ने 11 दिन तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की तो पीड़ित महिलाओं ने पुलिस को आइना दिखाते हुए खुद ही आरोपी को पकड़ लिया. एक अदालत लगाई जिसमें छेड़खानी करने वाले युवक ने पीड़ित महिला के पैर छुए और इस महिला अदालत में कान पकड़ कर हाथ जोड़कर पीड़िता से माफी मांगी और भविष्य में इस तरह की घटना दोबारा न करने की भी कसम खाई.

यह था मामला
मैनपुरी के कुसमरा चौकी (Kusmara police chouki of Mainpuri) इलाके में एक महिला समूह में काम करने वाली महिला के साथ 26 नवंबर को इलावांस निवासी एक व्यक्ति ने छेड़खानी कर दी. पीड़ित महिला चौकी पहुंची और उसने तहरीर देकर कार्रवाई किए जाने की गुहार लगाई. महिला का आरोप है कि शिकायत के बाद पुलिस तो मानो आरोपी की ही पहरेदार बन गई हो. पुलिस ने पीड़िता की रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की और ना ही आरोपी को गिरफ्तार किया. पुलिस से न्याय न मिलता देख महिलाओं ने खुद ही न्याय करने का फैसला किया और आरोपी को पकड़ लिया. सैकड़ों महिलाओं ने मिलकर अदालत बैठाई जिसमें बाकायदा आरोपी ने कान पकड़कर और पीड़ित महिला के पैर छूकर सार्वजानिक रूप से पीड़िता से माफी मांगी. इतना ही नहीं  महिला अदालत में आरोपी ने भविष्य में इस तरह की घटना दोबारा न करने की भी कसम खाई.

Women of Mainpuri, up police, mainpuri police
महिला अदालत में पीड़िता से माफ़ी मांगता छेड़खानी का आरोपी


मैनपुरी की लापरवाह पुलिस
रिपोर्ट के मुताबिक मैनपुरी में महिलाओं के प्रति पुलिस बिल्कुल गंभीर नहीं दिखती. हाल ही में थाना घिरोर इलाके में छेड़खानी से तंग आकर एक लड़की ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी. पुलिस ने उसमें भी निष्क्रियता दिखाई. इसी थाना इलाके में चार युवक एक लड़की की हत्या कर शव को पंखे पर लटका देते हैं और अब इसी थाना इलाके के कुसमरा चौकी क्षेत्र में पीड़ित महिला तहरीर देती है उसके बावजूद भी पुलिस कार्रवाई नहीं करती. पुलिस के रवैये से तंग आकर खुद महिलाओं को अपनी अदालत लगाकर न्याय करना पड़ता है. नवागत एसपी अजय कुमार पांडे महिलाओं के प्रति हो रही घटनाओं को लेकर बेहद गंभीर हैं उन्होंने सभी थानाध्यक्षों को निर्देशित किया है कि महिला सुरक्षा को देखते हुए महिलाओं की शिकायत पर तत्काल कार्रवाई कर आरोपियों को सलाखों के पीछे भेजें लेकिन यहां की पुलिस अपने कप्तान के फरमान को भी सुनते नजर नहीं आ रही है.

ये भी पढ़ें - कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पहुंचीं उन्नाव, गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से की मुलाकात

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद अखिलेश यादव ने यूपी विधानसभा के बाहर दिया धरना, रखा 2 मिनट का मौन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मैनपुरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 2:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर