अपना शहर चुनें

States

इटावा: 2 हजार रुपये नहीं मिले तो बना कालित, ईंट से कुचलकर दोस्त को उतारा मौत के घाट

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.
पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

Etawah News: उत्तरप्रदेश के इटावा में 12 जनवरी को हुए एक युवक की हत्या के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है. एसपी प्रशांत कुमार के मुताबिक. पैसे के लेन लेन को लेकर विवाद में दोस्त ने अपने दोस्त की हत्या  (Murder )कर दी.

  • Share this:
इटावा. उत्तरप्रदेश के इटावा जिले के फ्रेंड्स कॉलोनी में दोस्त ने महज 2000 के लेन देन के विवाद में अपने दोस्त की ईंट से कुचलकर हत्या (Murder) कर दी. इस हत्यारोपी दोस्त को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस अधीक्षक नगर प्रशांत कुमार ने शुक्रवार को एक प्रेसवार्ता में इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि आरोपी दोस्त को गिरफतार कर लिया गया है. उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है.  उन्होंने बताया कि 12 जनवरी को हुई हत्या के बाद पूरे मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस सक्रिय हुई.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि रामबाबू नाम के कुल्हड़ बनाने वाले की उसके ही साथी सुनील ने मात्र दो हजार रूपये के लेनदेन के विवाद में ईंट से हमला कर हत्या कर दी. वारदात के दिए आरोपी शराब के नशे में था. नशे में ही उसे अपने दोस्त का कत्ल कर दिया. पुलिस हिरासत में आरोपी ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है. दोनों एक ही कारखाने में एक साथ काम किया करते थे. हत्या से पहले दोनों ने जमकर के शराब भी पी भी थी.





फैक्ट्री में मजदूरी करते थे दोनों
एसपी ने बताया कि 12 जनवरी को फ्रेंड्स कॉलोनी क्षेत्र के महेरा फाटक के पास सुनसान इलाके में खून से सनी युवक की लाश मिलने से सनसनी फैल गई थी. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू की. इसके बाद युवक की जेब से मिले आधार कार्ड से युवक की शिनाख्त रामबाबू के नाम से हुई थी. मृतक युवक मिट्टी के कुल्हड़ की फैक्ट्री में मजदूर का काम किया करता था. युवक की ईंटों से कुचलकर निर्ममता से हत्या की गई थी. पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी.

ये भी पढ़ें: बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ में Bird Flu की पुष्टि, बालोद से भेजा गया सैंपल पॉजिटिव, अलर्ट जारी 

मामले का खुलासा करते हुए एसपी सिटी प्रशांत कुमार ने बताया कि मृतक युवक रामबाबू की हत्या के आरोप में मृतक के दोस्त सुनील उर्फ बाबा को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार युवक सुनील और मृतक रामबाबू दोनों एक दूसरे के दोस्त थे और कुल्हड़ की फैक्ट्री में नौकरी किया करते थे. मृतक रामबाबू ने सुनील को दो हजार रुपये उधार दिए थे जिसे रामबाबू सुनील से वापिस मांग रहा था. पैसे वापिस न मिलने पर रामबाबू और सुनील के बीच में गाली गलौज और कहासुनी भी हुई थी. इसके बाद सुनील ने रामबाबू की हत्या करने का प्लान बनाया. 12 जनवरी की रात सुनील ने रामबाबू को जमकर शराब पिलाई, फिर महेरा फाटक के पास सुनसान इलाके में ले गया और ईंटों से कुचलकर उसकी हत्या कर दी और शव को मौके पर छोड़कर भाग गया था. पुलिस ने हत्यारोपी सुनील के पास खून से सने हुए कपड़े और ईंट बरामद कर ली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज