Home /News /uttar-pradesh /

मनीष गुप्ता हत्याकांड: सीबीआई अब कराएगी बिसरा जांच, एक्सपर्ट टीम के साथ जाएगी गोरखपुर

मनीष गुप्ता हत्याकांड: सीबीआई अब कराएगी बिसरा जांच, एक्सपर्ट टीम के साथ जाएगी गोरखपुर

मनीष गुप्ता हत्याकांड: सीबीआई ने इंस्पेक्टर समेत 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज की एफआईआर

मनीष गुप्ता हत्याकांड: सीबीआई ने इंस्पेक्टर समेत 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ दर्ज की एफआईआर

Manish Gupta Murder Case : मनीष गुप्ता की मौत से जुड़ी जांच को लेकर सीबीआई जल्द ही दोबारा गोरखपुर जा सकती है. इस बार केस से जुड़े तमाम सबूतों को समाने लाकर मनीष की मौत का राज उजागर करने की भी सीबीआई की कोशिश होगी. सूत्रों के अनुसार इस बार सीबीआई जब गोरखपुर जाएगी तो उसके साथ एक्सपर्ट की टीम होगी. साथ ही टीम में उच्चाधिकारी भी मौजूद रहेंगे, जिससे वो अधिकारियों से पूछताछ कर सकें.

अधिक पढ़ें ...

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में हुई प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता (Manish Gupta Murder Case) की मौत की गुत्थी को सुलझाने के लिए सीबीआई (CBI) अब उसकी बिसरा जांच कराने की तैयारी में है. पोस्टमार्टम के बाद मनीष का बिसरा सुरक्षित रख लिया गया था. बिसरा जांच से सीबीआई को मौत की गुत्थी सुलझाने में मदद मिलेगी. साथ ही मौत की असल वजह भी पता चल पाएगी. घटना से पहले मनीष ने अपने दोस्तों के साथ कितनी शराब पी थी, इसको भी पता करने की कोशिश होगी.

मनीष गुप्ता की मौत से जुड़ी जांच को लेकर सीबीआई जल्द ही दोबारा गोरखपुर जा सकती है. इस बार केस से जुड़े तमाम सबूतों को समाने लाकर मनीष की मौत का राज उजागर करने की भी सीबीआई की कोशिश होगी. सूत्रों के अनुसार इस बार सीबीआई जब गोरखपुर जाएगी तो उसके साथ एक्सपर्ट की टीम होगी. साथ ही टीम में उच्चाधिकारी भी मौजूद रहेंगे, जिससे वो अधिकारियों से पूछताछ कर सकें. इसके साथ ही सीबीआई अपने साथ मेडिकल टीम, फोरेंसिक टीम और सर्विलांस एक्सपर्ट की टीम भी लेकर जाएगी, जिससे घटना से संबंधित हर एक पहलू की जांच बरीकी से हो सके.

ये भी पढ़ें- मनीष के दोस्तों से होगी पूछताछ, CBI ने लखनऊ दफ्तर पर बुलाया

क्राइम सीन रीक्रिएट करवा सकती है CBI

इसके आलावा मनीष के गुड़गांव वाले दोस्त हरबीर सिंह और प्रदीप सिंह से भी सीबीआई बुधवार को पूछताछ कर सकती है. घटना का सिलसिलेवार ब्योरा जानने के लिए सीबीआई सबूतों के अध्ययन के साथ सीन रीक्रिएट भी करवा सकती है. साथ ही आरोपित पुलिसवालों का नार्को टेस्ट भी करवा सकती है.

ये भी पढ़ें- तिहाड़ जेल में रखे जाएंगे सभी आरोपी पुलिसकर्मी, CBI की पूछताछ जारी

आपको बता दें कि कानपुर निवासी मनीष गुप्ता अपने दोस्तों के साथ गोरखपुर घूमने आये थे और रामगढ़ताल थाना क्षेत्र में एक होटल में रुके थे. जहां पर जांच के नाम पर रात बारह बजे रामगढ़ताल थाने की पुलिस कमरे के अंदर जाती है और दस मिनट बाद मनीष को गंभीर हालत में अस्पताल लेकर जाया जाता है. जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया जाता है. इस मामले में तत्कालीन थानाध्यक्ष सहित 6 पुलिस वाले गोरखपुर जेल में बंद हैं.

Tags: CBI Probe, Manish gupta murder case, UP police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर