मंदिर के बहाने ले जाकर विवाहिता को 50 हजार में बेच आईं गांव की दादी, जबरन कराई दूसरी शादी

सोनभद्र में एक दादी ने महिला को बेत दिया और उसकी दूसरी शादी करवा दी.

सोनभद्र में एक दादी ने महिला को बेत दिया और उसकी दूसरी शादी करवा दी.

सोनभद्र (Sonbhadra) के पन्नूगंज में एक विवाहिता का गांव की एक बुजुर्ग दादी ने मंदिर (Mandir) के बहाने ले जाकर सौदा कर दिया. महिला ने उसे पचास हजार रुपए में बेचे जाने के बाद उसकी जबरन दूसरे के साथ शादी (Wedding) करवाने का आरोप लगाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2021, 10:05 PM IST
  • Share this:
सोनभद्र. सोनभद्र (Sonbhadra) के पन्नूगंज में एक विवाहिता का गांव की एक बुजुर्ग दादी ने मंदिर के बहाने ले जाकर सौदा कर दिया. महिला ने उसे पचास हजार रुपए में बेचे जाने के बाद उसकी जबरन दूसरे के साथ शादी (Wedding) करवाने का आरोप लगाया है. उसके विरोध के बाद शादी करने वाले दबंग ने उसे कमरे में कैद (Kidnape) कर दिया. इसकी सूचना किसी तरह पीड़ित महिला ने पुलिस (Police) तक पहुंचाई. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिला को आजाद करा दिया, लेकिन आरोपी दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. पीड़ित महिला ने इसकी शिकायत रायपुर जाकर पुलिस के उच्च अधिकारियों से की है.

पीडि़त महिला ने बताया कि उसके गांव की ही एक बुजुर्ग महिला जिसे हम लोग दादी कहते हैं वह उसे मंदिर दर्शन करने के नाम पर बहाने ले अपने साथ ले गई. तभी रास्ते में मोटरसाइकिल से एक व्यक्ति मिला उसने भी मंदिर जाने की बात कह कर हम लोग को मोटरसाइकिल पर बैठा लिया. इसके बाद वह हमें दूसरे गांव ले गया.

वहां कुछ दबंग साथियों को बुलाकर हमारे साथ मारपीट कर उसने जबरिया हमसे दूसरी शादी कर ली. डर की वजह से हम इसका विरोध नहीं कर पाए. महिला का आरोप है कि गांव की दादी ने उसे दबंगो को 50 हजार में बेच दिया. पीडि़त महिला ने बताया कि जबरन शादी के बाद जब मैंने शोर मचाना शुरू किया तो हमें 3 दिन तक एक कमरे में बंद कर दिया गया. किसी तरह हमने मोबाइल से पुलिस को सूचना दी. इस पर पुलिस ने वहां पहुंचकर मुझे छुड़ाया और ले जाकर घर छोड़ दिया, लेकिन दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई.

रेप की शिकायत करने थाने पहुंची युवती से बदसलूकी का आरोप, पुलिसवालों ने कहा- मर क्यों नहीं जाती?
पत्नी ने पति को मोबाइल से बताई आपबीती

पीडि़त महिला का पति दूसरे शहर में काम करता है. महिला ने बताया कि इस घटना की जानकारी उसने अपने पति को मोबाइल से दी. जब पति घर पर आए तो पहले हम लोग तहरीर लेकर रायपुर थाना पुलिस के पास पहुंचे, लेकिन पुलिस ने डांट कर भगा दिया. जिसके बाद हम लोगों को बताया गया कि आप का गांव पन्नूगंज थाना क्षेत्र में पड़ता है, वहीं जाइए. इसके बाद हम लोग पन्नूगंज थाने में तहरीर दी है.

पीडि़ता के पति ने बताया कि वह बाहर नौकरी करता है. उसकी पत्नी और बच्चे यहां गांव में रहते हैं. जब 10 दिन बाद मेरी पत्नी दबंगों के चंगुल से छुटी तब फोन पर हमें सारी जानकारी दी उसके बाद मैं भी गांव पहुंच गया . पीडि़ता के पति ने कहा कि दबंगों के खिलाफ कार्रवाई करवाने के लिए मैं रायपुर थाने पहुंचा पर रायपुर पुलिस ने हमें यह कह कर भगा दिया कि यह मामला पन्नूगंज थाने का है तुम लोग वहीं जाओ. पन्नूगंज थाना आने पर उसकी शिकायत नहीं सुनी गई. पुलिस वालों ने उसके साथ गाली गलौज कर भगा दिया.



एसपी ने किया जानकारी से इनकार

महिला को बेचने और जबरन शादी करने के मामले की जानकारी पर जब जिले के एसपी से बात की गई तो उन्होंने इस मामले की जानकारी होने से मना कर दिया. एसपी ने बताया कि मेरे संज्ञान में मामला नही है, जबकि फोन पर एसपी के पीआरओ ने बताया कि ये एक लंबा रैकेट है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज