लाइव टीवी

मथुरा: फर्जी मार्कशीट के आधार पर नौकरी पाने वाले 33 शिक्षक बर्खास्त

News18 Uttarakhand
Updated: December 12, 2019, 6:52 PM IST
मथुरा: फर्जी मार्कशीट के आधार पर नौकरी पाने वाले 33 शिक्षक बर्खास्त
जांच में मथुरा के 59 शिक्षकों के कागजात भी फर्जी पाए गए थे. (Demo Pic)

पिछले कई सालों से मथुरा (Mathura) में फर्जी बीएड डिग्री (Fake B.ed Degree) के आधार पर करीब 59 टीचर नौकरी कर रहे थे, इसकी जांच की रिपोर्ट आने के बाद 33 शिक्षकों को उनकी नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया.

  • Share this:
मथुरा. उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग (Uttar Pradesh Basic Education Department) में कथित तौर पर फर्जी मार्कशीट (fake marksheet) के आधार पर नौकरी पाने वाले मथुरा के 59 अध्यापकों (Teachers) के खिलाफ जांच के बाद 33 शिक्षकों को बर्खास्त करने का आदेश दिया गया है.

कार्यवाहक बेसिक शिक्षाधिकारी रामतीर्थ वर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वर्ष 2004-05 में आगरा विवि से बीएड की डिग्री हासिल करने वाले जिन 33 शिक्षकों की मार्कशीट फर्जी पाई गई थी, उनकी बर्खास्तगी की जा रही है. जबकि छेड़छाड़ की गई मार्कशीट वाले शेष शिक्षकों के मामले की जांच जारी है. उनकी जांच पूरी होने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी.

सूत्रों के अनुसार, इस मामले की जांच के लिए 2016 में गठित विशेष जांच टीम (एसआईटी) की छानबीन में आगरा स्थित डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के सत्र 2004-05 में बीएड डिग्री हासिल करने वाले 4,700 शिक्षकों की मार्कशीट गड़बड़ पाई गई थीं.

रामतीर्थ वर्मा ने बताया कि इनमें से कई डिग्रियां पूरी तरह से फर्जी थी, तो कई की मार्कशीट में छेड़छाड़ की गई थी. इसमें मथुरा के 59 शिक्षकों के कागजात भी फर्जी पाए गए थे. उन्होंने बताया कि इन सभी को सितम्बर माह में निलंबित कर दिया गया था. गत माह इन सभी को सेवा समाप्ति का नोटिस देते हुए 26 नवम्बर तक अपना पक्ष रखने का समय दिया गया था. इनके खिलाफ एसआईटी द्वारा बर्खास्तगी की कार्रवाई की संस्तुति पर जिला बेसिक शिक्षाधिकारी चंद्रशेखर ने 33 अध्यापकों को बर्खास्त करने का आदेश जारी किया है.

बता दें, इससे पहले अमेठी में 16 शिक्षकों को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था. 2015 में 16448 हजार शिक्षकों की भर्ती हुई थी. जिसमें ये अमेठी जनपद के दर्जनों बेसिक स्कूलों में तैनात थे. जब इनकी फर्जी डिग्री की भनक बेसिक शिक्षा अधिकारी विनोद कुमार मिश्रा को लगी तो उन्होंने सबसे पहले विभिन्न संस्थाओं के माध्यम से जांच कराई. बीएसए के मुताबिक, जांच के बाद 16 शिक्षकों की डिग्री फर्जी मिली. जिसके बाद सभी को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मथुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 6:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर