Home /News /uttar-pradesh /

मथुरा: सनसनीखेज 1 करोड़ की लूट में 7 गिरफ्तार, फरार मास्टरमाइंड पर 1 लाख का इनाम

मथुरा: सनसनीखेज 1 करोड़ की लूट में 7 गिरफ्तार, फरार मास्टरमाइंड पर 1 लाख का इनाम

UP: मथुरा पुलिस ने 10 दिन पहले हुई एक करोड़ 5 लाख की लूट का खुलासा कर दिया है.

UP: मथुरा पुलिस ने 10 दिन पहले हुई एक करोड़ 5 लाख की लूट का खुलासा कर दिया है.

Mathura News: एडीजी जोन, आगरा राजीव कृष्ण ने फरार दो मुख्य अभियुक्तों में से एक अरविंद पर 1 लाख का इनाम घोषित किया है. इसके अलावा इस घटना को खोलने पर मथुरा पुलिस को भी 1 लाख का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है.

मथुरा. उत्तर प्रदेश के मथुरा (Mathura) में 10 दिन पहले हुई दिनदहाड़े बुलियन व्यापारी से 1 करोड़ 5 लाख रुपये की लूट (loot) का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. घटना में शामिल 4 बदमाशों सहित 7 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. यही नहीं लूटी धनराशि में से 44 लाख 86 हजार रू. बरामद कर लिए हैं. एडीजी जोन, आगरा राजीव कृष्ण ने फरार दो मुख्य अभियुक्तों में से एक अरविंद पर 1 लाख का इनाम घोषित किया है. इसके अलावा एडीजी ने इस ब्लाइंड लूट की घटना को खोलने पर मथुरा पुलिस को भी 1 लाख का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है. उधर पीड़ित व्यापारी ने भी पुलिस की सराहना करते हुए शेष राशि को भी जल्द से जल्द बरामद करने की पुलिस अधिकारियों से गुहार लगाई है.

16 अगस्त को मथुरा में शहर कोतवाली इलाके में बाग बहादुर पुलिस चौकी से महज 50 मीटर दूर हुई लूट की वारदात का एडीजी आगरा जॉन राजीव कृष्ण ने गुरुवार को खुलासा कर दिया.  बुलियन व्यापारी राजकुमार अग्रवाल के साले के लड़के अंकित बंसल के साथ 16 अगस्त को बदमाशों ने उस समय लूट की वारदात को अंजाम दिया. जब वह अपने बहनोई का एक करोड़ पांच लाख रुपये स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में जमा कराने जा रहा था. इस वारदात का पुलिस ने गुरुवार को दस दिन बाद खुलासा कर दिया.

25 दिन में दो बार की गई रेकी

पुलिस इन्वेस्टिगेशन में पता चला कि बदमाशों का मुखबिर कोमल है, जो कि सर्राफा बाजार में ही काम करता है. उसी ने बदमाशों को व्यापारी द्वारा रकम ले जाने की सूचना दी. इसके बाद बदमाशों ने वारदात को अंजाम देने से 25 दिन पहले से वारदात को अंजाम देने की तैयारी कर ली थी. इस दौरान बदमाशों ने दो बार रेकी भी की.

पुलिस ने इन्हें किया गिरफ्तार

अपर पुलिस महानिदेशक, आगरा राजीव कृष्ण ने बताया कि यह लूट की घटना में चांदी का काम करने वाले एक व्यक्ति द्वारा रूपयों को बैंक में जमा करने की बदमाशों को सूचना दी गई थी. उसका नाम कोमल पुत्र बनवारी निवासी- महादेव घाट, थाना सदर बाजार है. जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है. इसके पास से लूट के 50 हजार रुपये मिले हैं.

लूट की वारदात को अंजाम देने वालों में से पुलिस ने नितेश पुत्र गिर प्रसाद, तरुण चौधरी पुत्र अर्जुन, जीतू उर्फ जितेंद्र पुत्र हरिश्चंद, गिर प्रसाद पुत्र जसवंत सिंह, जगवीरी पत्नी गिर प्रसाद निवासी भवोकरा थाना जेवर गौतमबुद्ध नगर, अजय पुत्र गोकुल सिंह निवासी कोलाहार नौहझील व मुखबिर कोमल पुत्र बनवारी निवासी महादेव घाट थाना सदर बाजार मथुरा को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने इनके पास से लूटी गई रकम में से 44 लाख 86 हजार रुपये बरामद कर लिए हैं.

वारदात स्थल से 70 किलोमीटर दूर खरीदे थे बदमाशों ने बैग

वारदात के बाद सकते में आई पुलिस ने जब इस मामले की तहकीकात की और सीसीटीवी तलाशे तो पुलिस जांच करते थाना नौहझील के बाजना कस्बे में पहुंची. यहां पुलिस को अंजनी शोरूम पर लगे सीसीटीवी कैमरों में दो युवक खरीदारी करते दिखे. जिसके बाद पुलिस ने दुकानदार से जब जानकारी की तो उसने अपनी दूसरी दुकान से दोनों लकड़ों द्वारा 4 बैग खरीदने की बात कही. इसके बाद आसपास के इलाकों में जब अपनी जांच बढ़ाई तो 3 लड़कों की पहचान हुई.

फरार मुख्य आरोपी पर एक लाख का इनाम

इस वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों में से 7 को गिरफ़्तार करने के बाद पुलिस अब मास्टर माइंड अरविंद की तलाश में जुटी है. पुलिस ने अरविंद के ऊपर एक लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया हैं. इसके साथ ही पुलिस एक अन्य आरोपी को भी तलाश रही हैं.

गिरफ्तार बदमाशों ने पूछताछ में बताया कि 17-17 लाख रुपये हम तीनों ने आपस में बांट लिए, शेष रकम नीतेश ले गया. बताया जाता है बदमाशों ने लूटी धनराशि में से काफी रकम अपने जीजा, पिता-माता आदि को बांट दिए. अपर पुलिस महानिदेशक के अनुसार लुटेरों की पहचान बाजना कस्बा में अंजनी शोरूम पर लगे सीसीटीवी के फुटेज से हुई. बदमाशों ने इस स्थान पर एक दुकान से 4 जिम बैग खरीदे थे.

वारदात के खुलासे से पीड़ित सन्तुष्ट, व्यापारी नेता असंतुष्ट

वारदात के खुलासे के बाद पीड़ित व्यापारी राजकुमार अग्रवाल के बेटे राहुल ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने काफी मेहनत की है. वह खुलासे से संतुष्ट हैं लेकिन उनकी बाकी की रकम भी जल्द बरामद की जाए. वहीं वारदात का खुलासा कर रहे एडीजी आगरा जॉन राजीव कृष्ण, आईजी रेंज नवीन अरोड़ा व एसएसपी गौरव ग्रोवर के समक्ष भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के पदाधिकारी पहुंच गए. व्यापारी नेताओं ने वारदात के खुलासे से सन्तुष्टि न जताते हुए अध्यक्ष रमेश चतुर्वेदी ने बताया कि जब तक 80 से 90 प्रतिशत रकम बरामद न हो जाये वह सन्तुष्ट नहीं हैं.

Tags: Looting and robbery, Mathura news, UP news, UP news updates, UP Police उत्तर प्रदेश

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर