मथुरा: कलयुग में महिला को हाथ में अंगारे रखकर देनी पड़ी अग्निपरीक्षा, मुकदमा दर्ज

तांत्रिक के कहने पर उन्होंने बहू के हाथों में चूल्हे की जलती हुई लकड़ी रख दी. उनका कहना था कि हाथ जलने से बहू के खराब चरित्र की पुष्टि हो जाएगी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 25, 2018, 11:48 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: October 25, 2018, 11:48 AM IST
मथुरा से अंधविश्वास का एक खौफनाक मामला सामने आया है. यहां सीता की अग्निपरीक्षा की तर्ज पर एक युवती को अग्निपरीक्षा देनी पड़ी है. बहू के चरित्र की परीक्षा लेने के लिए ससुराल वालों ने तांत्रिक के कहने पर उसके हाथों पर सुगलती हुई लकड़ी रख दी. बहू के दोनों हाथ बुरी तरह से जख्मी हो गए हैं. पुलिस के पास पहुंची पीड़िता का आरोप है कि शक के आधार पर उसे लगातार परेशान किया जाता रहा है.

मामला मथुरा के थाना मांट क्षेत्र के गांव नगलाबरी का है. पीड़िता और उसकी बहन की शादी अप्रैल 2017 में नगलाबरी निवासी बनवारी के बेटों जयवीर और यशवीर से हुई थी. शादी के बाद से ही पीड़िता का पति उसके चरित्र पर शक करता. इसी शक की बिना पर उसे तरह-तरह से परेशान किया जाता था. इसी कड़ी में पीड़िता की सास और पति ने तांत्रिक का सहारा लिया. तांत्रिक के कहने पर उन्होंने बहू के हाथों में चूल्हे की जलती हुई लकड़ी रख दी. उनका कहना था कि हाथ जलने से बहू के खराब चरित्र की पुष्टि हो जाएगी.

बुरी तरह से जले हाथों के साथ बहू ने सास और पति के खिलाफ मामला दर्ज करवाया. पीड़िता का आरोप है कि बीते चार अक्टूबर को सोते में पति ने चाकू से उसके हाथ काट दिए थे. गंभीर रूप से घायल पीड़िता के पिता ने महिला थाने में इसकी शिकायत की. तब पुलिस के ढीले रवैए के चलते हारकर पीड़िता ने सुलह कर ली थी. (रिपोर्ट- नितिन गौतम)

ये भी पढ़ें-

यूपी पुलिस में 5 हजार दरोगाओं की भर्ती अगले महीने, महिलाओं के लिए 20 फीसदी पद

इन 5 बेहतरीन ऐप्स से घर बैठे पाएं लोन, अब नहीं लगाने पड़ेंगे बैंक के चक्कर 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...