लाइव टीवी

मथुरा में नाबालिग लड़की से गैंगरेप, महिला डॉक्टर नहीं होने से पीड़िता का नहीं हो सका मेडिकल
Mathura News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 18, 2020, 12:16 PM IST
मथुरा में नाबालिग लड़की से गैंगरेप, महिला डॉक्टर नहीं होने से पीड़िता का नहीं हो सका मेडिकल
मथुरा में गैंगरेप पीड़िता अपना मेडिकल कराने के लिए दर-दर भटक रही है.

डिप्टी एसपी मांट आलोक दुबे ने कहा कि मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने फौरन पीड़िता को मेडिकल कराने के लिए जिला अस्पताल भेजा. लेकिन रात में कोई डॉक्टर न होने की वजह से उसका मेडिकल शनिवार को होगा

  • Share this:
मथुरा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मथुरा (Mathura) में एक नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप (Gangrape) की घटना सामने आई है. हैरान करने वाली बात यह है कि पुलिस मुकदमा लिखने के बाद पीड़िता को लेकर मेडिकल कराने जिला अस्पताल पहुंची तो वहां डॉक्टर ही नहीं मिला. काफी देर इंतजार करने के बाद पीड़िता और उसके परिजनों को वापस 70 किलोमीटर दूर अपने घर लौट जाना पड़ा. पीड़िता के परिजन और पुलिस देर रात तक भटकते रहे लेकिन महिला जिला अस्पताल में कोई सुनने वाला नहीं मिला. अब शनिवार को पीड़िता का मेडिकल कराए जाने की उम्मीद है.

जानकारी के मुताबिक थाना सुरीर के गांव भदनवारा रोड पर दादी के साथ चारा लेने गई किशोरी को एक नामजद और दो अज्ञात युवकों ने खेत की मेढ़ पर सरेआम दोपहर दो बजे उठा (अपहरण) लिया और गैंगरेप के बाद शाम पांच बजे के लगभग छोड़ दिया. परिजनों ने जब खोजबीन की तो आरोपी तो नहीं मिले लेकिन उनकी मोटरसाइकिल जरूर हत्थे चढ़ गई. इसके बाद परिजन पीड़िता को लेकर थाने पहुंचे, जहां उन्होंने भदनवारा गांव के रहने वाले पवन और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराई.

कड़ी कार्रवाई चाहते हैं ताकि बेटी काे न्याय मिल सके
पीड़िता के दादा ने बताया कि वो 70 किलोमीटर दूर से आए हैं और यहां पर डॉक्टर नहीं है और मेडिकल होना जरूरी है. अब हम क्या करेंगे? रात में कहां रुकेंगे? उन्होंने मायूस होकर कहा कि मजबूरन उन्हें फिर 70 किलोमीटर दूर वापस लौटना पड़ रहा है. क्या करें जब डॉक्टर साहब नहीं है. वापस जाना ही पड़ेगा. यहां कोई व्यवस्था नहीं है. 376 का मामला है और लड़की की डॉक्टरी (मेडिकल) होना जरूरी था. वहीं पीड़िता के पिता ने बताया कि आरोपियों की मोटरसाइकिल को बरामद कर लिया गया है लेकिन आरोपी अभी फरार हैं. उन्होंने आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

वहीं अस्पताल से पता चला कि इस मामले में बताया गया है कि शाम होते ही महिला डॉक्टर घर के लिए रवाना हो जाती हैं. ऐसे में रात को आने वाले मरीजों को अस्पताल में कोई महिला डॉक्टर नहीं होने की वजह से सुबह तक का इंतजार करना पड़ता है.

शनिवार को पीड़िता का मेडिकल होने की उम्मीद 
डिप्टी एसपी मांट आलोक दुबे ने कहा कि मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने फौरन पीड़िता को मेडिकल कराने के लिए जिला अस्पताल भेजा. लेकिन रात में कोई डॉक्टर न होने की वजह से उसका मेडिकल शनिवार को होगा. आलोक दुबे ने कहा कि मुकदमा लिख दिया गया है. आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम दबिश दे रही है. जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा.ये भी पढ़ें:

फास्ट ट्रैक कोर्ट ने गैंगरेप मामले में 3 को ठहराया दोषी, सुनाई 20 साल की सजा

रेप के बाद मासूम बच्ची के हत्यारे को POCSO Court ने सुनाई फांसी की सजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मथुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 10:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर