महामंडलेश्वर नवल गिरी बोले- धर्मांतरण रोकने के लिए हमें अपनी आबादी को बढ़ाना होगा

मथुरा में महामंडलेश्वर नवल गिरि ने कहा कि धर्मांतरण को रोकने के लिए हमें सबसे पहले अपनी आबादी को बढ़ाना होगा.

Mathura News: महामंडलेश्वर नवल गिरि ने कहा कि धर्मांतरण को रोकने के लिए हमें सबसे पहले अपनी आबादी को बढ़ाना होगा. उन्होंने ऐलान किया कि यदि ऐसे लोगों ने इन कार्यों को नहीं रोका तो साधु समाज सड़कों पर आकर उनका कत्ल करेगा.

  • Share this:
मथुरा. अवैध धर्मांतरण (Illegal Religious Conversion) मामले में गिरफ्तार उमर गौतम (Umar Gautam) से जुड़े खुलासे लगातार हो रहे हैं. इधर इस घटना से धर्मनगरी मथुरा (Mthura) के साधु-संतों में आक्रोश है. धर्मांतरण पर बने कानून के बाद भी मामले सामने आने पर संतों ने एक स्वर से कानून को और कड़ा करने की वकालत की है. महामंडलेश्वर नवल गिरी महाराज ने इसे लेकर विवादित बयान दे दिया है. महामंडलेश्वर नवल गिरी ने कहा कि धर्मांतरण को रोकने के लिए हमें सबसे पहले अपनी आबादी को बढ़ाना होगा. उन्होंने ऐलान किया कि यदि ऐसे लोगों ने इन कार्यों को नहीं रोका तो साधु समाज सड़कों पर आकर उनका कत्ल करेगा. धर्मान्तरण किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. महामंडलेश्वर ने चैलेंज किया कि धर्मांतरण कराने वाले किसी व्यक्ति या संगठन में ताकत है तो मथुरा-वृन्दावन में धर्मांतरण करके दिखाए.

महामंडलेश्वर नवल गिरी ने कहा कि अब हम हिंदू राष्ट्र में इस कार्य को नहीं होने देंगे. 1000 आदमियों को ही नहीं, ना जाने कितने हजारों आदमियों को धर्मांतरण करा दिया है. उन्होंने सरकारी तंत्र पर सवाल उठाते हुए कहा कि इन कार्यों के सामने आने के बाद सवाल खड़ा होता है कि कानून, सरकार, व्यवस्था कहां पर सो रहे हैं? इसके लिए अब साधु समाज जाग गया है और हम हिंदू भाइयों से भी अपील कर रहे हैं कि थोड़े से पैसे के लालच में ऐसे कार्यों को अंजाम ना दें. यह बड़े गर्व की बात है कि हम हिंदू हैं, सनातनी हैं और हमारा जन्म भारत में हुआ है. इस गरिमा को बनाए रखें. .

'धरती से हिन्दू मिटेगा तो मानवता भी मिटेगी'
वहीं अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले डासना स्थित देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहा नन्द सरस्वती ने कहा कि आज हिन्दू अपने बच्चों को मजबूत बनाए इस संदेश के लिए कृष्ण की नगरी से बड़ी कोई जगह नहीं हो सकती. आज भी हिंदुओं ने यदि इस बात को नहीं सुना तो समझना पड़ेगा कि हिन्दू मिटने के लिए भी तैयार हो जाए . लोगों को इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि यदि इस धरती से हिन्दू मिटेगा तो धरती से मानवता भी मिटेगी.

'ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करें हिंदू'
उन्होंने कहा कि हिन्दू वेद का पालन करें, वेदों में है कि यदि एक लड़का है तो वह न होने के बराबर है. उन्होंने हिंदुओं से ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करने ओर उन्हें इतना मजबूत बनाने का संदेश दिया कि वह वक़्त आने पर अपनी व दूसरों की सुरक्षा कर सके साथ ही धर्म की रक्षा भी कर सके. उन्होंने विवादित बयान देते हुए कहा कि आज हिंदुओं के बच्चे कमजोर हैं और जिहादियों ने अपने एक-एक, दो-दो साल के बच्चो से बकरे मुर्गे कटवा कटवाकर उन्हें एकदम राक्षस बना दिया है. वो किसी को मारने से डर ही नहीं रहे हैं. वह मानव का कत्ल ऐसे ही कर रहे है और कानून उन्हें सजा नहीं दे पाता. एक कमजोर हिन्दू उसके खिलाफ गवाही नहीं दे पाता इसलिए परिवार को बढ़ाना भी है और मजबूत भी बनाना है.

हिंदुओ के संगठित न हो पाने के सवाल के जवाब पर डासना वाले महाराज ने कहा कि हिंदू नेताओं के फेर में पड़ा हुआ है. जिस दिन हिंदू की बुद्धि जाग जाएगी और हिंदू समझेगा कि अपने भाई के साथ रहना है. नेताओं के चक्कर में ज्यादा नहीं पढ़ना तो हिंदू संगठित हो जाएगा. यदि आज भी हिंदू समाज नहीं चेता तो वह मुगलों की गुलामी झेलने को तैयार रहें.

गोष्ठी के दौरान मंच पर विराजमान स्वामी सुमेधानंद महाराज, विपुल चैतन्य ब्रह्मचारी, नागेंद्र गौड़, योगेशानंद सरस्वती, नवल गिरी महाराज, हरिशरण महाराज, स्वामी देवेन्द्र चैतन्य महाराज, गोपालानंद गिरि, विवेकानंद महाराज व स्वरूपानंद सरस्वती का माल्यार्पण कर स्वागत किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वामी सुमेधानंद ने एवं संचालन पूरन चंद कौशिक ने किया. कार्यक्रम के अंत में संयोजक कैप्टन हरिहर शर्मा आदि ने स्वामी नरसिंहानन्द को धर्म रक्षा निधि व शहीद की जन्मस्थली की मिट्टी भेंट की. इस अवसर पर हिंदूवादी नेता गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी, व्यापारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष रविकांत गर्ग, देवेंद्र सिंह राठौर, ठा. ओमप्रकाश सिंह, विजय बहादुर सिंह, आचार्य ब्रजेंद्र नागर, अजय गोयल, शैलेष अग्रवाल, धर्मपाल सिंह सोलंकी, डॉ. संतोष राजोरिया, आचार्य मनमोहन रामानुज, मुरलीधर चतुर्वेदी, लक्ष्मण प्रसाद शर्मा, उमेश गर्ग लोहे वाले आदि उपस्थित रहे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.