Home /News /uttar-pradesh /

मथुरा जिला अस्पताल के सीएमएस का फरमान- बिना आधार कार्ड नहीं होगा इलाज!

मथुरा जिला अस्पताल के सीएमएस का फरमान- बिना आधार कार्ड नहीं होगा इलाज!

Photo: News18

Photo: News18

सीएमएस बीके गुप्ता के नए फरमान से अस्पताल में हड़कंप मच गया है. उन्होंने अपने कार्यालय के बाहर एक नोटिस चस्पा किया, जिसमें लिखा है कुत्ते और बंदर काटने वाले इंजेक्शन बिना आधार कार्ड वालों को नहीं मिलेंगे.

    मथुरा जिला अस्पताल के सीएमएस ने नया फरमान जारी किया है, जो चर्चा का विषय बना हुआ है. फरमान के मुताबिक अब जिला अस्पताल में बिना आधार कार्ड के मरीज न तो इलाज करा सकेंगे, न ही उन्हें दवाई ही दी जाएगी. सीएमएस ने अपने कार्यालय पर एक नोटिस चस्पा कर दिया है, जिसमें लिखा है कि कुत्ते और बंदर काटने वाले इंजेक्शन बिना आधार कार्ड वालों को नहीं मिलेंगे.

    बता दें कि जिला अस्पताल में मरीजों को दवाई उपलब्ध नहीं हो पा रही हैं. सरकारी डॉक्टर मोटी पगार लेकर अपने कार्यालय में बैठते तो हैं लेकिन मरीजों को बाजार की महंगी दवाइयां लिख देते हैं. वहीं सीएमएस बीके गुप्ता के नए फरमान से अस्पताल में हड़कंप मच गया है. उन्होंने अपने कार्यालय के बाहर एक नोटिस चस्पा किया, जिसमें लिखा है कुत्ते और बंदर काटने वाले इंजेक्शन बिना आधार कार्ड वालों को नहीं मिलेंगे.

    जो आधार कार्ड लाएगा उसी को इंजेक्शन मिलेंगे. बता दें कि मरीज बीमार होने से पहले या घायल होने से पहले अपनी जेब में आधार कार्ड रख लें तभी जिला अस्पताल जाए और उसका इलाज होगा अन्यथा आधार कार्ड जिन लोगों के पास नहीं है तो उनका जिला अस्पताल में इलाज नहीं होगा. सीएमएस के तुगलकी फरमान से मरीज भी सकते में है. भगवती कहती हैं कि डॉक्टर बाजार की महंगी दवाई लिख देते हैं और अब इंजेक्शन भी उन्हीं लोगो को मिलेगा जिनके पास आधार कार्ड हैं.

    Photo: News18


    इस पूरे मामले में जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्रा ने मामले में जानकारी करने की बात कही. साथ ही कहा कि अगर ऐसा है तो अधिकारियों की जांच कमेटी बनाकर इस पूरे मामले की जांच कराई जाएगी. साथ ही सीएमएस के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी.

    Tags: मथुरा

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर