होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /यमराज से लड़ पत्नी खींच लाई अपने पति के प्राण, 10 मिनट तक मुंह से देती रही सांस

यमराज से लड़ पत्नी खींच लाई अपने पति के प्राण, 10 मिनट तक मुंह से देती रही सांस

मथुरा जंक्शन में बेहोश पड़े बुजुर्ग की RPF के जवानों ने बचाई जान.

मथुरा जंक्शन में बेहोश पड़े बुजुर्ग की RPF के जवानों ने बचाई जान.

Mathura News:कोयंबटूर एक्सप्रेस ट्रेन के B4 कोच की सीट संख्या 67, 68 में 67 वर्षीय केशवन अपनी पत्नी के साथ निजामुद्दीन ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

हार्टअटैक से मथुरा जंक्शन पर बेहोश हो पड़े थे बुजुर्ग
मौके पर पहुंचे RPF के जवानों ने बचाई जान

मथुरा. उत्तर प्रदेश के मथुरा जंक्शन पर रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने इंसानियत की मिशाल पेश की. RPF के जवानों ने ट्रेन में यात्रा कर रहे एक यात्री को हार्ट अटैक आने पर पत्नी से मौके पर CPR दिलवाई और खुद पंपिंग किया. इस बीच आरपीएफ जवानों ने भी इंसानियत दिखाते हुए यात्री को समय पर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जिससे उसकी जान बच गई. रेलवे सुरक्षा बल के जवानों द्वारा किए गए इस कार्य की सभी ने सराहना की.

बता दें कि दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन से चलकर तिरुवंतपुरम जाने वाली कोयंबटूर एक्सप्रेस, शुक्रवार की मिड नाइट मथुरा जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर रुकी थी. इसी दौरान ट्रेन के B4 कोच के पास आरपीएफ की स्पेशल टीम के जवानों को भीड़ एकत्रित दिखाई दी. भीड़ देख आरपीएफ के जवान अशोक कुमार और निरंजन सिंह तत्काल मौके पर पहुंचे. जहां पता चला कि कोच में यात्रा कर रहे 67 वर्षीय बुजुर्ग को हार्ट अटैक आया है. जिसके बाद RPF के जवानों ने तुरंत बुजुर्ग की पत्नी से उसे CPR दिलवाई. इस दौरान RPF के जवान मूर्छित पड़े व्यक्ति के हाथ-पैर की मालिश करते रहे.

एंबुलेंस के जरिए भेजा अस्पताल
बेहोश पड़े बुजुर्ग को आरपीएफ के जवान अशोक कुमार और निरंजन सिंह ने पहले पत्नी दया से मौके पर ही CPR दिलवाई. इस दौरान दोनों ने खुद उनके शरीर के अन्य हिस्से को मसलना शुरू कर दिया. जवानों ने कंट्रोल को एंबुलेंस भेजने की सूचना दी. सूचना मिलते ही सहायक निरीक्षक मदन सिंह मौके पर पहुंच गए. इसके बाद आरपीएफ के जवान केशवन को स्ट्रेचर की मदद से सर्कुलेटिंग एरिया में लेकर आए. जहां, एंबुलेंस की मदद से अस्पताल भेजा गया. इस दौरान भी आरपीएफ का जवान निरंजन सिंह उनके साथ गए. आरपीएफ द्वारा मौके पर पहले दीलाई गई सीपआर (CPR) और उसके बाद अस्पताल तक की गई मदद से केशवन की जान बच गई. तत्काल उठाए गए कदम से केशवन की जान बचने पर पत्नी दया और ट्रेन में यात्रा कर रहे अन्य यात्रियों ने आरपीएफ के इस मानवता भरे कदम की सराहना की.

Tags: Heart attack, Mathura news, RPF, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें