Home /News /uttar-pradesh /

mathura municipal corporation empolyess moves on strike nagar ayukt given altimetam upns

मथुरा शहर में चरमराई सफाई व्यवस्था, नगर आयुक्त बोले- नहीं लौटे काम पर तो होगी कार्रवाई

 मथुरा वृंदावन नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा 5 सूत्रीय मांगों को लेकर काम बंद हड़ताल पर है.

मथुरा वृंदावन नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा 5 सूत्रीय मांगों को लेकर काम बंद हड़ताल पर है.

मथुरा वृंदावन नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा 5 सूत्रीय मांगों को लेकर काम बंद हड़ताल पर है. मांगें पूरी न होने पर गुस्साए कर्मचारियों ने नारेबाजी कर अपने आक्रोश का इजहार किया. सफाई कर्मचारियों की प्रमुख मांग है कि महिला कर्मचारियों को वर्दी मिले, पुराने कर्मचारियों की एसीपी लगे. आगरा की तरह मथुरा में भी 30 दिन का वेतन मिले. नगर निगम में 1500 सफाई कर्मचारी हैं. जिसमें से करीब 350 वृंदावन जोन में काम करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

मथुरा. मथुरा वृंदावन नगर निगम के सफाई कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं. सफाई कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से शहर की सफाई व्यवस्था पर असर पड़ सकता है. निगम अधिकारी सफाई कर्मचारियों से बात कर हड़ताल खत्म कराने का प्रयास कर रहे हैं. हालांकि नगर आयुक्त अनुनय झा ने हड़ताल पर गए सफाई कर्मचारियों को गुरुवार को काम वापस आने का अल्टीमेटम दिया है. गुरुवार को अगर हडताली कर्मचारी काम पर वापस नहीं आए तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने साफ कहा कि छवि को खराब करने वालों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा.

बता दें कि मथुरा वृंदावन नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा 5 सूत्रीय मांगों को लेकर काम बंद हड़ताल पर है. मांगें पूरी न होने पर गुस्साए कर्मचारियों ने नारेबाजी कर अपने आक्रोश का इजहार किया. सफाई कर्मचारियों की प्रमुख मांग है कि महिला कर्मचारियों को वर्दी मिले, पुराने कर्मचारियों की एसीपी लगे. आगरा की तरह मथुरा में भी 30 दिन का वेतन मिले. नगर निगम में 1500 सफाई कर्मचारी हैं. जिसमें से करीब 350 वृंदावन जोन में काम करते हैं इसके अलावा 250 अन्य क्षेत्र में. बताया जा रहा है कि हड़ताल पर करीब 400 ही सफाई कर्मचारी हैं. जिनके हड़ताल पर जाने से मथुरा शहर में सफाई व्यवस्था पर असर पड़ सकता है.

UP: भ्रष्टाचार पर योगी सरकार का एक्शन जारी, बलिया के अपर पुलिस अधीक्षक निलंबित

नगर आयुक्त अनुनय झा ने दावा किया कि सफाई कर्मियों की हड़ताल गैर संवैधानिक है क्योंकि जब तक हड़ताल नहीं हो सकती है जब तक की कोई भी वार्ता असफल ना हो जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि नगर निगम के कर्मचारी एस्मा के अंतर्गत आते हैं इस सब के बावजूद भी 40-50 सफाईकर्मियों ने होली गेट पर धारा 144 लागू होने के बाद एकत्रित होकर नारेबाजी की. वातावरण को दूषित करने का प्रयास किया और इनको जब हमने 11:00 बजे अपने कार्यालय में बुलाया तो लगभग 100 से अधिक लोग आ गए. कार्यालय में घुसकर नारेबाजी करने लगे. हमने उनके प्रतिनिधिमंडल को बुलाया तो उन्होंने हमारी बात को ठुकरा दिया और और उनकी ऐसी कोई भी मांग नहीं है जिनको हमने पूरा नहीं किया है. यह बहुत ही खेद जनक बात है जो यह पूरे धार्मिक शहर के माहौल को दूषित कर रहे हैं.

Tags: CM Yogi, Mathura news, Mathura police, Mathura temple, UP news, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर