होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Mathura: लड्डू गोपाल की भक्ति में शक्ति, भक्त की मुराद हुई पूरी, पढ़े क्या है मामला

Mathura: लड्डू गोपाल की भक्ति में शक्ति, भक्त की मुराद हुई पूरी, पढ़े क्या है मामला

UP News: मथुरा में लड्डू गोपाल के भक्त उनको चमत्कारिक मानते हैं. उनका मानना है कि आज तक लड्डू गोपाल ने उनको कभी निराश न ...अधिक पढ़ें

  • Local18
  • Last Updated :

    रिपोर्ट:~ चंदन सैनी

    मथुरा. लड्डू गोपाल को लेकर कई तरह के किस्से हैं. इनके कई चमत्कार भी बताए जाते हैं. लेकिन मथुरा में एक परिवार के साथ जो हुआ. उसे जानकर आप भी लड्डू गोपाल की भक्ति और चमत्कार पर यकीन कर लेंगे. कहा जाता है हम अपने जिस भगवान को पूजते है. वो अपने भक्तों को कभी नाराज नहीं करते. आइये ऐसी ही एक घटना से आपको हम रूबरू कराते है.

    अपनों के बिछड़ जाने का गम क्या होता है. इसे महसूस किया है रिटायर्ड कस्टम अधिकारी के परिवार ने. रिटायर्ड कस्टम अधिकारी हरि कौशिकपंजाब के अमृतसर के रहने वाले है. कौशिक अपने परिवार के साथमथुरा वृंदावन घूमने आए थे. वृंदावन के इस्कॉन मंदिर के समीप एक गेस्ट हाउस में रुके हुए थे. वह अपने परिवार के साथ दर्शन करने जाते हैं और वापस अपने गेस्ट हाउस पर आकर आराम करते है.

    परिवार दर्शन करने के लिए निकला था
    प्राप्त जानकारी के अनुसार 3 नवंबर को परिवारीजन दर्शन करने के लिए निकले थे. हरि कौशिक अकेले कमरे पर ही रुक गए. जोकि स्नान आदि करने के बाद वह अपने कमरे से घूमने के लिए निकल गए. जबकि उनका पर्स, मोबाइल, डॉक्यूमेंट सब कमरे पर ही था.दर्शन करने के बाद परिजन गेस्ट हाउस पर पहुंचे. तो उन्हें हरि कौशिक नहीं मिले. जिसके चलते वे मायूस होकर उन्हें इधर-उधर तलाश करने लगे. इसके बाद भी उनका कोई पता नहीं चला.

    बेटी है योग टीचर
    हरि कौशिक की बेटी पंजाब में पेशे से योगा टीचर है. उनकी पत्नी मधुबाला पति के गायब होने की वजह से काफी परेशान हो गई. जिसको लेकर उन्होंने 3 नवंबर की शाम तक हरि कौशिक को काफी तलाश किया. लेकिन उनका कोई पता नहीं चल सका. इसको लेकर यूनो कंपनी में इंडस्ट्रीज सलाहकार अपने बेटे नीतीश और डीआरआई में इन्वेस्टिगेटिव ऑफिसर अपने दामाद देवेंद्र भारद्वाज और बेटी गुंजन को इस संबंध में जानकारी दी. हरि कौशिक के गायब होने की जानकारी मिलते ही उनका बेटा, बेटी और दामाद वृंदावन आ गए.

    गायब होने का बन गया पोस्टर
    सभी ने मिलकर हरि कौशिक के गायब होने के पोस्टर बनवाए. परिवार के सभी सदस्य उन्हें अलग-अलग जगहों पर तलाश करने लगे. जहां उनकी बेटी दामाद उन्हें सड़कों पर तलाश रहे थे, तो उनके बेटे धर्मशाला और गेस्ट हाउस में उनके बारे में जानकारी करते हुए घूम रहे थे. वही उनकी पत्नी मधुबाला उन्हें लगातार एक मंदिर से दूसरे मंदिर में ढूंढती फिर रही थी.

    रास्ते में किसी ने आश्रम की दी जानकारी
    परिवारीजन उन्हें सड़कों पर तलाश कर रहे थे. तभी किसी ने उन्हें अपना घर आश्रम के बारे में जानकारी दी.अपना घर आश्रम के वित्त सचिव सुधीर शुक्ला ने उनकी खबर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी. जिसके बाद मथुरा के मंडी चौराहे के निकट रुकमणी बिहार से एक प्रवीण अग्रवाल नाम के व्यक्ति का फोन उनके परिवार के पास आया. फोन प्राप्त जानकारी के अनुसार सुधीर बताए गए स्थान पर पहुंचे. जहां उन्हें हरि कौशिक घूमते हुए मिले. हरि कौशिक के मिलने की जानकारी सुधीर के द्वारा परिवार को दी गई. जहांपरिवार को देखकर 65 वर्षीय हरि कौशिक की आंखों में खुशी के आंसू छलक उठे.

    इस महिला की भक्ति हुई पूरी\
    मधुबाला ने न्यूज18 लोकल की टीम को बताया. किसी ने उन्हें लड्डू गोपाल दिए थे. लड्डू गोपाल के घर में आने के 2 दिन बाद ही उनके पति गायब हो गए. मैं अपने पति को जगह-जगह तलाश कर रही थी. पति का कहीं भी कोई पता नहीं चला. तो उन्हें लड्डू गोपाल जी पर गुस्सा आ गया. उन्होंने गुस्से में लड्डू गोपाल जी से कहा कि अगर उन्हें उनके पति नहीं मिले तो वह लड्डू गोपाल जी को यही छोड़कर चली जाएंगी. फिर क्या था लड्डू गोपाल ने उनकी पुकार सुन ली. इसके बाद ही उनके पति उनको मिल गए थे. जिससे उनकी आस्था लड्डू गोपाल के प्रति और बढ़ गई. ऐसा माना जाता है कि लड्डू गोपाल अपने चाहने वालों को कभी निराश नहीं करते.

    Tags: Mathura news, UP news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें