मथुरा में ईवीएम पर चूहों का अटैक, प्रशासन के लिए बना सरदर्द
Mathura News in Hindi

मथुरा में ईवीएम पर चूहों का अटैक, प्रशासन के लिए बना सरदर्द
चूहों से डरा प्रशासन

मथुरा में प्रशासन चूहों से इस कदर खौफजदा है कि उसने ईवीएम मशीनों की सुराक्षा के लिए चुनाव आयोग से जाली वाले ताले लगाने की अनुमति मांगी है.

  • Share this:
यूपी के मथुरा में दूसरे चरण के मतदान के बाद अधिकारियों के सामने चुनौती है बड़े-बड़े चूहों से ईवीएम को बचाने की. एक तरफ जहां गठबंधन के प्रत्याशी कुंवर नरेंद्र इस बात से चिंतित हैं कि मथुरा और बल्देव विधानसभा की ईवीएम पीछे रखी हुई है. जिनकी सुरक्षा को लेकर वह आशंकित है. वहीं प्रसाशन का कहना है कि उन्होंने चूहों के डर से ईवीएम को पीछे रखा है.

कुंवर नरेंद्र का आरोप है कि पीछे जहां यह ईवीएम रखी है गाड़िया जाती है सीधे जाती है. गाड़ियों में कौन जा रहा है, क्यों जा रहा है यह पता नहीं लग पाता. उन्होंने कहा हमारी मांग है कि पीछे के हिस्से में जहां यह ईवीएम रखी है वहां के सीसीटीवी कैमरों की एक स्क्रीन सामने लग जाए, जिससे पता लग जाए कि क्या हो रहा है, कौन क्या कर रहा है.

योगी के मंत्री बोले- आरोपों में सच्चाई हो तो मेरा मांस चौराहे पर कुत्तों से नुचावाया जाए



उधर जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्र ने कहा कि कुंवर नरेंद्र सिंह ने एक पत्र दिया था उसका जवाब दे दिया गया है. वहीं चूहों के खतरे को देखते हुए तालों से आगे भी जाली लगाने के लिए आयोग से अनुमति मांगी गई है. जैसे ही अनुमति मिल जाएगी वैसे ही जाली भी लगा दी जाएंगी. प्रशासन ने मथुरा में चुनाव को भले ही शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करा दिया हो लेकिन आए दिन ईवीएम पर उठ रहे सवालों ने मथुरा प्रसाशन की मुशिकलें बढ़ाने का काम कर दिया है.
खेत में लगी आग देख दौड़ पड़ीं स्मृति ईरानी, हैंडपंप चलाकर की ग्रामीणों की मदद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज