Mathura News: पुलिस ने धूमधाम से मनाया शहीद की बेटी का जन्मदिन, परिवार बोला- दिल को छू गया अंदाज

शहीद की बेटी के साथ पुलिसकर्मी.

Mathura News: मथुरा पुलिस ने 2016 में जम्मू और कश्मीर के कुपवाड़ा के नौगांव सेक्टर में सीमा पर आतंकवादियों से मुठभेड़ में शहीद बबलू सिंह (Shaheed Babloo Singh) की बेटी गरिमा (Garima) का जन्‍मदिन मनाकर सभी का दिल जीत लिया. यही नहीं, जब पुलिस के जवान (UP Police) सुबह घर पहुंचे तो सभी हैरान थे.

  • Share this:
    मथुरा. यूपी के मथुरा (Mathura) के बालाजीपुरम में रहने वाले और सेना की 18वीं जाट रेजिमेंट (18th Jat Regiment) के सैनिक शहीद बबलू सिंह (Shaheed Babloo Singh) के परिजन रविवार को उस समय आश्चर्यचकित रह गए जब स्थानीय पुलिस एवं पीआरवी (UP Police) की दो टीमें उनके घर बेटी गरिमा (Garima) का जन्मदिन मनाने के लिए गिफ्ट और केक लेकर पहुंच गए. इस बाबत शहीद के भाई सतीश सिंह ने बताया, 'यह वाकई हम सबके लिए तो बहुत सुखद अनुभव था ही, परंतु भतीजी गरिमा के लिए बहुत ही आश्चर्य व खुशियों से भरा मौका था. उन्होंने बताया कि उसे उसके पिता शहीद बबलू सिंह बेहद प्यार करते थे और पांच साल पहले उनकी शहादत के वक्त वह केवल चार साल की थी. उसका भाई द्रोण उससे दो साल बड़ा है.

    शहीद के भाई ने बताया कि हमारा मूल गांव तो फरह थाना क्षेत्र में झण्डीपुर है, लेकिन भाई की शहादत के बाद हम लोग अब शहर के थाना हाईवे क्षेत्र की बालाजीपुरम कॉलोनी में ही रहते हैं. रविवार को जब सुबह अचानक पुलिस की दो गाड़ियां पहुंची और सीधे हमारे घर की ओर रुख किया, तो सब हैरान रह गए.

    जब खुशी से चहक उठी गरिमा
    इसके अलावा उन्‍होंने बताया कि जल्द ही वे गरिमा के नाम का बधाई संदेश लिखा केक और मिठाई के पैकेट लेकर आते दिखाई दिए तो सभी की खुशी ठिकाना न रहा. हम सभी को इस प्रकार बच्ची का जन्मदिन मनाने के लिए पुलिस का यकायक घर पर आ जाना दिल में गहरे तक छू गया. जबकि इस बारे में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने बताया, 'शहीद बबलू सिंह की वीरता और बहादुरी को सम्मान देते हुए उनकी बेटी को पिता की कमी ना खले, इसलिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने उनके घर जाकर जन्मदिन की बधाई और शुभकामनाएं दीं. वहीं, परिवार ने पुलिसकर्मियों का आभार व्यक्त किया.

    उल्लेखनीय है कि बबलू सिंह वर्ष 2016 में जम्मू और कश्मीर के कुपवाड़ा जनपद में नौगांव सेक्टर में सीमा पर घुसपैठ करने का प्रयास कर रहे आतंकवादियों से मुठभेड़ होने पर शहीद हो गए थे. उन्हें उनके अदम्य शौर्य और साहस के लिए 15 जनवरी 2017 को सेना दिवस पर सेना मेडल से सम्मानित किया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.