• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने किया दुनिया के सबसे ऊंचे चंद्रोदय मंदिर का शिलान्‍यास

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने किया दुनिया के सबसे ऊंचे चंद्रोदय मंदिर का शिलान्‍यास

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने धार्मिक नगरी मथुरा के वृंदावन में आज चंद्रोदय मंदिर के गर्भ-गृह का शिलान्यास किया। इसके बाद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बांके बिहारी मंदिर गए और वहां पूजा अर्चना की।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने धार्मिक नगरी मथुरा के वृंदावन में आज चंद्रोदय मंदिर के गर्भ-गृह का शिलान्यास किया। इसके बाद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बांके बिहारी मंदिर गए और वहां पूजा अर्चना की।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने धार्मिक नगरी मथुरा के वृंदावन में आज चंद्रोदय मंदिर के गर्भ-गृह का शिलान्यास किया। इसके बाद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बांके बिहारी मंदिर गए और वहां पूजा अर्चना की।

  • Share this:
    राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने धार्मिक नगरी मथुरा के वृंदावन में आज चंद्रोदय मंदिर के गर्भ-गृह का शिलान्यास किया। इसके बाद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बांके बिहारी मंदिर गए और वहां पूजा अर्चना की।

    इस अवसर पर महामहिम के साथ राज्यपाल राम नाइक, मथुरा सांसद हेमा मालिनी और कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडिस समेत ढाई हजार विशिष्ट और अति विशिष्ट अतिथियों ने कार्यक्रम में शिरकत की। वृंदावन में बनने वाला सात सौ फीट ऊंचा चंद्रोदय मंदिर अपने निर्माण के बाद दुनिया का सबसे ऊंचा मंदिर होगा। वृंदावन में बनने वाला विश्व का सबसे ऊंचा चंद्रोदय मंदिर, सिर्फ कंक्रीट, शीशा, कीमती-दुर्लभ पत्थर की इमारत नहीं होगी। नक्काशी और शिल्पकला की बेजोड़-बेमिसाल हुनरमंदी भी नहीं होगी। यह ब्रह्मांड की एक ऐसी कल्पना की संरचना होगी जिसमें जीवंत चित्रों, ऑडियो-वीडियो आदि आधुनिक तकनीकी के जरिए उन वेद-पुराणों, ग्रंथों के पन्नों के शब्दों से सराबोर कर देगी, जिसे विद्वतजनों ने अपने प्रवचनों में उच्चारित किया है।

    चंद्रोदय मंदिर दिल्ली के कुतुब मीनार से करीब तीन गुना यानी 210 मीटर ऊंचा होगा। तीन सौ करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस मंदिर का निर्माण इस्कॉन सोसाइटी करा रही है। शिलान्‍यास के बाद राष्‍ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा कि वृंदावन दुनिया को शाति और समरसता का संदेश देगा। वृंदावन को धार्मिक पर्यटन का केंद्र बनाने के उत्तर प्रदेश सरकार के प्रयास सराहनीय हैं।

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज