वृंदावन में ई-साइकिल चलाते दिखे तेजप्रताप, शख्स ने Video बनाया तो भड़के, बोले- केस कर दूंगा

एक सोशल मीडिया यूजर ने तेजप्रताप का वीडियो शेयर किया है.

लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्यमंत्री तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) उस समय भड़क गए जब ई-साइकिल चलाते समय कुछ लोग उनका वीडियो बनना लगे.

  • Share this:
    मथुरा. लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्यमंत्री तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) का वृंदावन से एक खास लगाव है. वे अधिकांश समय वृंदावन (Vrindavan) की यात्रा करते हैं. बुधवार को भी तेजप्रताप अपने अलग अंजाद में वृंदावन की गलिययों में दिखे. तेज प्रताप पीली धोती, कुर्ता और गले में शॉल डाले वृंदावन की गलियों में ई-साइकिल का मजा लेते दिखे. इस दौरान कुछ लोग तेजप्रताप का वीडियो बनाने लगे जिससे वे नाराज हो गए और केस करने की चेतावनी दे दी.

    एक सोशल मीडिया यूजर ने तेजप्रताप का ई-साइकिल चलाते वीडियो अपने अकाउंट से शेयर किया है. इस वीडियो में कुछ लोग उस समय तेजप्रताप का वीडियो बना रहे थे जब वे ई-साइकिल चला रहे थे. जब तेजप्रताप की नजर उन पर पड़ी तो उन्होंने खुद को मीडियाकर्मी बताया. तेजप्रताप ने फिर बिना इजाजत वीडियो न बनने और केस करने की चेतावनी दी.

    कुछ ऐसे अंदाज में भी दिखे थे तेजप्रताप

    राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव अपने अनोखे अंदाज के लिए जाने जाते हैं. तेजप्रताप यादव राजनीति के साथ ही अध्यात्म और पूजा पाठ में भी विश्वास रखते हैं. तेजप्रताप यादव 2021 के आगमन पर अपने दोस्तों के साथ वृंदावन में पहुंचे थे. नए साल के आगमन पर तेजप्रताप यादव ने कुछ तस्वीरें अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की थी, जिसमें वह बिल्कुल अलग अंदाज में वृंदावन की गलियों में घूमते नजर आ रहे थे. तेजप्रताप यादव ने अपनी इस तस्वीर को कैप्शन भी दिया था, जिसमें उन्होंने लिखा, वृंदावन की वादियों में छात्र राजद के क्रांतिकारी साथियों के साथ. इस दौरान वृंदावन में तेजप्रताप यादव गायों के साथ भी समय बिताते और उन को चारा खिलाते दिख थे. मालूम हो कि तेजप्रताप यादव हमेशा वृंदावन जाया करते हैं और कृष्ण के साथ-साथ वे भगवान शिव के भी बड़े भक्त हैं. उनकी बांसुरी वादन कला के भी लोग कायल हैं.

    ये भी पढ़ें: Uttarakhand Assembly Election: किसानों पर कांग्रेस का फोकस, फरवरी में होंगे 2 बड़े प्रोग्राम 

    तेजप्रताप ने फिर बिना इजाजत वीडियो न बनने और केस करने की चेतावनी दी.




    ऐसे गलती कर बैठे थे तेजप्रताप

    हालही में तेजप्रताप यादव ने अपने पिता की रिहाई के लिए सोशल मीडिया में कैंपेन के बाद अब नयी मुहिम शुरू की थी. इसके तहत राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को पोस्टकार्ड पर पत्र लिखा, जिसे 'आजादी पत्र' नाम दिया गया. तेज प्रताप और उनकी बहन रोहिणी आचार्य ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर लालू प्रसाद की रिहाई की मांग की. उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि सभी लालू प्रसाद यादव की रिहाई की मांग को लेकर राष्ट्रपति को पत्र लिखें. तेज प्रताप यादव ने राष्ट्रपति को जो पोस्टकार्ड पत्र लिखा है, इसमें वह अपने पिता लालू प्रसाद यादव का नाम भी सही से नहीं लिख पाए हैं. उन्होंने 'आदरणीय श्री लालू प्रसाद जी की जगह 'आपरणीय श्री लालु प्रसाद जी' लिख दिया. सिर्फ लालू ही नहीं, एक वाक्य में कई गलतियां की. जैसे 'मसीहा' को 'मसिहा' लिख दिया है. इसी तरह 'मूल्य' को 'मुल्य', 'गरीबों' को 'गरीवों' और 'वंचित' को 'बंचित' लिखा.