बीजेपी की वजह से ही शुरू हुई अयोध्या मामले पर सुनवाई: मनीष शुक्ला

शुक्ला ने कहा,‘‘ जहां तक सवाल राम मंदिर का है तो निश्चित रूप से बीजेपी के लिए यह आस्था का विषय है. इसलिए इसे चुनाव मुद्दा न मानकर सामाजिक विश्वास को पूर्ण करने के समान मानना चाहिए.’

News18Hindi
Updated: October 28, 2018, 2:29 PM IST
बीजेपी की वजह से ही शुरू हुई अयोध्या मामले पर सुनवाई: मनीष शुक्ला
बीजेपी प्रवक्ता मनीष शुक्ला
News18Hindi
Updated: October 28, 2018, 2:29 PM IST
मथुरा पहुंचे यूपी बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने कहा कि बीजेपी की सरकार के प्रयास से ही सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर मुद्दे की नियमित सुनवाई शुरू हुई है और आने वाले समय में बीजेपी ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराएगी. प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर ‘मीट टू प्रेस’ अभियान के तहत मीडिया के सामने उत्तर प्रदेश सरकार के 19 माह के कार्यकाल का लेखा-जोखा पेश करते हुए पार्टी प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने योगी और मोदी सरकार की 44 ऐसी खूबियां पेश कीं जिनसे, उनके अनुसार समाज के हर वर्ग को बहुत राहत पहुंची है.

प्रदेश प्रवक्ता ने बीजेपी को गरीबों की सबसे ज्यादा चिंता करने वाली पार्टी बताया. उन्होंने कहा कि गरीबों को छत मुहैया कराने, पांच लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज कराने, 14 फसलों का एमएसपी डेढ़ गुना करने, किसानों का एक लाख तक का ऋण माफ करने, 80 हजार मजरों (छोटे गांवों) में विद्युतीकरण, 72 हजार से अधिक नए विद्युत कनेक्शन, 43 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद, 37 लाख टन गेहूं की खरीद, प्रतिदिन 27 किमी राजमार्ग निर्माण और 134 किमी ग्रामीण सड़क निर्माण जैसी अनेक उपलब्धियां हासिल की हैं.

शुक्ला ने कहा,‘‘ जहां तक सवाल राम मंदिर का है तो निश्चित रूप से बीजेपी के लिए यह आस्था का विषय है. इसलिए इसे चुनाव मुद्दा न मानकर सामाजिक विश्वास को पूर्ण करने के समान मानना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि बीजेपी पर हर चुनाव से पहले राम मंदिर का मुद्दा उठाने का आरोप लगाना सरासर गलत है. क्योंकि, यह इतना बड़ा देश है कि यहां हर साल किसी न किसी राज्य में, कोई न कोई चुनाव होता ही रहता है. ऐसे में जनता के बीच के किसी भी विषय पर चुप्पी लगा पाना किसी भी प्रकार संभव नहीं है.

ये भी पढ़ें:

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में मायावती-अखिलेश के बीच गठबंधन की अटकलें तेज

डेस्क पर 6 माह के बच्चे को सुलाकर ड्यूटी निभाती दिखीं सिपाही, DGP ने घर के पास की पोस्टिंग

97 साल में पहली बार यूपी बोर्ड हुआ प्रयागराज, अधिसूचना जारी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...