Home /News /uttar-pradesh /

राम मंदिर पर बोले VHP के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष- कानून बनाने से पहले कोर्ट का निर्णय देखना होगा

राम मंदिर पर बोले VHP के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष- कानून बनाने से पहले कोर्ट का निर्णय देखना होगा

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे. Photo: News 18

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे. Photo: News 18

विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे ने कहा कि मंदिर तो अयोध्या में बनेगा, अवश्य बनेगा. कानून बनाने से पहले न्यायालय का निर्णय देखना होगा. न्यायालय जिन बिंदुओं पर कहेगा, उन्हीं बिंदुओं पर मंदिर का निर्माण कराया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...
    विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे दो दिवसीय दौरे पर धर्म की नगरी वृंदावन पहुंचे. इस दौरान उन्होंने साधु-संत और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की, वहीं वृंदावन में यमुना जी की आरती कार्यक्रम में शामिल हुए. मीडिया से मुलाकात करते हुए विहिप के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष यमुना जी की दुर्दशा के सवाल पर बोले मुझे बहुत पीड़ा पहुंचाती है लेकिन यह एक दिन में दुर्दशा ठीक होने वाली नहीं है. केंद्र सरकार के प्रयास द्वारा शुद्धिकरण को लेकर कार्य कराया जा रहा है. यह दशकों से गंदी चली आ रही है इसलिए धीरे-धीरे यमुना सहित जितनी भी नदियां हैं, सब को शुद्धीकरण कराया जा रहा है.

    राम मंदिर के मुद्दे पर अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु कोकजे ने कहा कि जिस जमीन पर राम मंदिर का निर्माण होना है, न्यायालय के अनुकूल ही होगा. कुछ लोगों ने कहा था कि 2019 तक मन्दिर का कोर्ट में सुनवाई नही होनी चाहिए अब वही लोग पूछ रहे हैं अयोध्या में मंदिर क्यों नहीं बन पा रहा है. वे लोग कोर्ट मे पैरवी छोड़ देंगे तो मंदिर बनकर खड़ा हो जाएगा. उन्होंने कहा कि संसद में कानून बनाएंगे तो वह भी न्यायालय में ही जायेगा. हम लोग कुछ नहीं कर सकते हैं. न्यायालय का जो निर्णय आएगा, वही सबको मान्य होगा.

    यमुना आरती के दौरान विहिप अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष. Photo: News 18


    उन्होंने कहा कि मंदिर तो अयोध्या में बनेगा, अवश्य बनेगा. कानून बनाने से पहले न्यायालय का निर्णय देखना होगा. न्यायालय जिन बिंदुओं पर कहेगा, उन्हीं बिंदुओं पर मंदिर का निर्माण कराया जाएगा.
    साधु संतों से मुलाकात के बारे में विहिप अन्तराष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि हिंदू धर्म में एक मार्गदर्शन साधु-संतों के माध्यम से दिया जाता है. हमारा समाज राजा-महाराज के समय से नहीं बल्कि ऋषि-मुनियों के समय से चला आ रहा है. पहले भी ऋषि-मुनियों के साथ विचार-विमर्श किया जाता था. आज भी हम संतो के पास जाकर उनसे मार्गदर्शन लेते हैं. समय-समय पर साधु संतो से विचार विमर्श करना जरूरी होता है.

    ये भी पढ़ें: 

    VHP उपाध्यक्ष चंपत राय बोले, राम मंदिर को लेकर अभी कोई कानून न बनाए सरकार

    सरकार को अस्थिर करने के लिए साजिश रच रहे हैं भारत के चर्च : विहिप

    Tags: VHP, मथुरा

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर