VIRAL VIDEO: ना भूख, ना प्यास की परवाह, बच्चों को सैकड़ों KM तक ऐसे ले जा रहे प्रवासी मजदूर
Mathura News in Hindi

VIRAL VIDEO: ना भूख, ना प्यास की परवाह, बच्चों को सैकड़ों KM तक ऐसे ले जा रहे प्रवासी मजदूर
बच्चों को हजारों किमी तक ऐसे ले जा रहे प्रवासी मजदूर (फाइल फोटो)

सामने आए कई वीडियो में मजदूर अपने बच्चों को हाथ में उठाकर, तो कहीं गाड़ी पर बिठाकर उन्हें खींचते दिखाई दे रहे हैं. इसी तरह वो सैकड़ों-हजारों किलोमीटर दूर अपने-अपने घरों की तरफ जा रहे हैं

  • Share this:
मथुरा. कोरोनावायरस (COVID-19) महामारी को रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन (Lockdown) लगा हुआ है. लॉकडाउन के तीसरे चरण के अंतिम दिन रविवार को जिस तरह की तस्वीरें सामने आ रही हैं वो वास्तव में हैरान करने वाली हैं. वीडियो में मजदूर अपने बच्चों को हाथ में उठाकर, तो कहीं गाड़ी पर बिठाकर उन्हें खींचते दिखाई दे रहे हैं. इस तरह वो सैकड़ों-हजारों किलोमीटर दूर अपने घरों की तरफ जा रहे हैं. दरअसल कोरोना वायरस के कारण देश भर में लॉकडाउन की स्थिति है. इस दौरान विभिन्‍न राज्‍य सरकारें प्रवासी मजदूरों को अपने घर लाने के लिए ना सिर्फ श्रमिक स्पेशल ट्रेनों बल्कि बसों का भी सहारा ले रही हैं. लेकिन हालात फिलहाल काबू होते दिखाई नहीं दे रहे हैं.

मजदूरों की भीड़ के आगे पुलिस दिखी असहाय
मध्‍य प्रदेश के रीवा के चाकघाट क्षेत्र में प्रवासी मजदूर बेकाबू हो गए और उन्‍होंने उत्तर प्रदेश और मध्‍य प्रदेश के बॉर्डर पर लगे बैरिकेड तोड़कर यूपी में प्रवेश किया. यहां हजारों प्रवासी मजदूर बेकाबू हो गए और उन्‍होंने दोनों राज्‍यों (उत्‍तर प्रदेश और मध्‍य प्रदेश) के बॉर्डर पर लगे बैरिकेड तोड़ कर उत्‍तर प्रदेश की सीमा में जबरदस्‍ती प्रवेश कर लिया. हालांकि इस दौरान वहां दोनों राज्‍यों की पुलिस तैनात थी, लेकिन मजदूरों की संख्या के आगे वो असहाय नजर आयी.

यूपी में कोरोना संक्रमण के 1805 मामले
वहीं, उत्तर प्रदेश के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 1,805 है. जबकि अब तक 2,444 मरीज पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं. राज्य में अब तक कुल मिलाकर कोरोनावायरस के 4,353 मामले सामने आए हैं. जबकि 104 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading