यमुना एक्सप्रेस-वे पर हादसा: अनियंत्रित होकर रेलिंग से टकराई बस, दो दर्जन घायल

यमुना एक्सप्रेस-वे पर हादसा
यमुना एक्सप्रेस-वे पर हादसा

यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Express Way) पर हादसा: हादसा (Accident) होने की वजह नींद के कारण झपकी बताई जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2020, 10:58 AM IST
  • Share this:
मथुरा. यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसों का ग्राफ दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. गुरूवार को रात्रि में दो बजे करीब माइल स्टोन 113 थाना राया क्षेत्र में नोयडा से आगरा की तरफ जा रही वॉल्वो बस अनियंत्रित होकर रेलिंग से टकरा गई जिसमें सवार दो दर्जन से अधिक सवारियां घायल हो गईं. पुलिस के मुताबिक घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया. वहीं क्रेन की मदद से बस को सीधा करवाकर सड़क किनारे खड़ा कराया. हादसा होने की वजह नींद के कारण झपकी बताई जा रही है.

जानकारी के मुताबिक हादसे में महबूब निवासी सकीट एटा, सतीश, शहनवाज और हुसैन निवासी औरैया, रोहित और राजतिवारी घाटमपुर कानपुर, श्याम करन निवासी चरवारी महोबा समेत 12 यात्री घायल हुए हैं.

दिल्ली में हादसा

वहीं दिल्ली के सरिता विहार इलाके में एक कार से टक्कर लगने से दिल्ली पुलिस का एक सिपाही घायल हो गया. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि सिपाही जितेंद्र के दोनों पैरों की हड्डियां टूट गयीं. उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है. पुलिस ने बताया कि यह घटना मंगलवार और बुधवार की रात तब हुई जब कांस्टेबल जितेंद्र और अंकुर सरिता विहार इलाके में गश्त ड्यूटी पर थे.



वे रात में 12:05 बजे एच-पॉकेट मार्केट पहुंचे और देखा कि हरियाणा के नंबर वाली एक बीएमडब्ल्यू कार पर एक केक रखा है तथा करीब 8-10 लोग शोर मचा रहे हैं. सिपाहियों ने उन्हें वापस घर जाने को कहा, लेकिन वे उनसे बहस करने लगे. पुलिस उपायुक्त (दक्षिणपूर्व) आर पी मीणा ने कहा, "अंकुर ने सरिता विहार थाने के आपातकालीन प्रतिक्रिया वाहन (ईआरवी) को फोन किया. ईआरवी देखने के बाद आरोपी जनता फ्लैट, मदनपुर खादर की ओर भाग गए. पुलिस ने उनका पीछा किया.”

उन्होंने बताया कि सिपाहियों ने जब उन्हें रुकने का संकेत दिया तो बीएमडब्ल्यू के ड्राइवर ने अंकुर को टक्कर मारने की कोशिश की लेकिन वह कूद गया और खुद को बचाने में कामयाब रहा. इसके बाद कार चालक ने जितेंद्र को टक्कर मार दी और भाग गया. उन्होंने कहा कि भारतीय दंड संहिता और मोटर वाहन अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है और जांच की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज