तीर्थ स्थल घोषित कर अयोध्या, मथुरा में मांस-मदिरा पर प्रतिबंध लगाएगी योगी सरकार!

बता दें, छह नवंबर को उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया है. संतों ने मांग की थी कि अयोध्या में मांस-मदिरा की बिक्री भगवान राम का अपमान है और इस पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए.

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 12, 2018, 11:38 PM IST
तीर्थ स्थल घोषित कर अयोध्या, मथुरा में मांस-मदिरा पर प्रतिबंध लगाएगी योगी सरकार!
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (File Photo )
News18 Uttar Pradesh
Updated: November 12, 2018, 11:38 PM IST
उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार राम की नगरी अयोध्या और कृष्ण की नगरी मथुरा को तीर्थ स्थान घोषित करने पर विचार कर रही है. इसके साथ ही यूपी सरकार इन दोनों शहरों में मांस-मदिरा की बिक्री और सेवन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने पर गंभीरता से विचार कर रही है.

यूपी सरकार के प्रवक्ता और प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि साधु संतों और करोड़ों भक्तों की मांग थी कि राम और कृष्ण की नगरी में मांस-मदिरा की बिक्री और सेवन पर प्रतिबंध लगाया जाए. उनकी मांग का सम्मान करते हुए प्रदेश सरकार अयोध्या की चौदह कोसी परिक्रमा के आसपास के इलाके और मथुरा में भगवान कृष्ण के जन्म स्थान के आसपास के इलाके को तीर्थ स्थान घोषित करने की योजना पर काम कर रही है. (यह भी पढ़ें- घर वापसी पर बोले तेजप्रताप- मुझे अपनी जिंदगी जी लेने दो भाई, शांति की तलाश में हूं)



शर्मा ने कहा कि जब ये दोनों स्थान तीर्थ स्थान घोषित हो जाएंगे तो यहां स्वत: ही मांस-मदिरा की बिक्री पर प्रतिबंध लग जाएगा. बिना तीर्थ स्थान घोषित किए इन दोनों स्थानों पर मांस-मदिरा पर प्रतिबंध लगाना संभव नही है. शर्मा के मुताबिक, मथुरा में वृंदावन, बरसाना, नंदगांव, गिरिराज जी (गोर्वधन) की सप्त कोषी परिक्रमा का इलाका पहले से ही तीर्थस्थान घोषित है. वहां मांस-मदिरा की बिक्री पर पूर्णत: प्रतिबंध है.

बता दें, छह नवंबर को उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया है. संतों ने मांग की थी कि अयोध्या में मांस-मदिरा की बिक्री भगवान राम का अपमान है और इस पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए.

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...