लाइव टीवी

भगवान भरोसे चल रहे सरकारी स्कूल

ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 6, 2017, 11:52 PM IST
भगवान भरोसे चल रहे सरकारी स्कूल
बदहाल शिक्षा व्यवस्था.

बदहाल शिक्षा व्यवस्था.

  • Share this:
मऊ जिले में शिक्षा व्यवस्था में गिरावट दर्ज की जा रही है. जिले के सरकारी स्कूलों में स्थिति बहुत ही चिंताजनक है. सरकार शिक्षा सुधार के दावे तो खूब करती हैं लेकिन असल में सरकारी स्कूल के हाल बेहाल नजर आ रहे हैं.

बदहाल शिक्षा व्यवस्था 

जिले के सरकारी स्कूलों के हालत ये हैं कि शिक्षकों की जगह छात्र खुद ही स्कूल संचालित कर रहे हैं. यहां का पूर्व माध्यमिक विद्यालय छात्रों के जरिए संचालित किया जा रहा है. स्कूल को सुबह खोलना और शाम को बंद करने तक की जिम्मेदारी छात्रों की होती है. शिक्षक अपनी मर्जी से जब चाहते है तब स्कूल आते है और टाइम पास करके चल जाते हैं.

भगवान भरोसे चल रहा स्कूल

मधुबन तहसील के फतहपुर मंडाव इलाके में सभी सरकारी स्कूल व्यवस्था के अभाव में  चलाए जा रहे हैं. आठवीं कक्षा के एक छात्र का कहना है कि वह रोजाना स्कूल खोलता और बंद करता है. स्कूल में कितने शिक्षक हैं उसे ये भी तक नहीं पता.

जर्जर हैं स्कूल भवन

इतना ही नहीं कई स्कूलों का भवन भी पूरी तरह से जर्जर हो चुका है और जिन स्कूल के भवन का नव निर्माण कराया गया है वे अभी अधूरे हैं. मतलब हर तरफ अव्यवस्थाओं के बीच बच्चे भगवान के भरोसे पढ़ाई करने को मजबूर हैं. शायद इसलिए अभिभावक अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों की जगह प्राइवेट स्कूलों में दाखिला दिलवा रहे हैं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 6, 2017, 11:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर