बीजेपी सांसद ने मंत्री अनुपमा पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, सीएम योगी को लिखा पत्र

सांसद ने सीएम को लिखे पत्र में आरोप लगाया है कि बच्चों के जूते-मोज़े के टेंडर में विभागीय मंत्री भारी अनियमितता कर रही हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 9, 2018, 12:27 PM IST
बीजेपी सांसद ने मंत्री अनुपमा पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, सीएम योगी को लिखा पत्र
घोसी से बीजेपी सांसद हरिनारायन राजभर
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 9, 2018, 12:27 PM IST
घोसी से बीजेपी के सांसद हरिनरायण राजभर ने बेसिक शिक्षा और बाल विकास एवं पुष्टाहार मंत्री अनुपमा जायसवाल पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं. सांसद हरिनारायण ने मंत्री के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है.

सांसद हरिनारायण राजभर ने पत्र में लिखा है कि बेसिक शिक्षा मंत्री ने जूते-मोजे के टेंडर में भारी गड़बड़ी की है. इसमें विभाग के अधिकारी भी शामिल हैं. अपने करीबियों को फायदा पहुंचाने के लिए टेंडर में खेल किया गया है. सांसद ने कहा है कि यह योजना सीधे आम लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार ने शुरू की है. ऐसे में आम और गरीब लोगों तक इसका लाभ नहीं पहुंचने से सरकार की छवि धूमिल हो रही है.

सांसद ने यह भी शिकायत की है कि जब उन्होंने मऊ जिले में जांच कराई तो सामने आया कि पिछले 10 महीने से बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की तरफ से दिया जाने वाला पौष्टिक आहार सप्लाई नहीं किया जा रहा है. सांसद हरिनारायण ने कहा है कि बेसिक शिक्षा मंत्री और उनके अधिकारी व्यापक पैमाने पर आम लोगों से धोखाधड़ी कर रहे हैं. सांसद ने इस मामले में जांच कराकर त्वरित कार्यवाही करने की मांग सीएम से की है.

मालूम हो कि न्यूज 18 यूपी ने सबसे पहले जूते-मोजे बांटने में की गई गड़बड़ी का खुलासा किया था. योगी सरकार ने प्राइमरी स्कूल के छात्र-छात्राओं को जूते-मोजे बांटने की योजना शुरू की थी. इसके तहत 266 करोड़ रुपये से प्रदेश के करीब 1 करोड़, 54 लाख छात्र-छात्राओं को जूते-मोजे बांटे गए थे. लेकिन इन जूते-मोजों की क्वालिटी इतनी घटिया थी कि चंद महीनों में ही वह खराब होने लगे. खबरों का संज्ञान लेकर हाईकोर्ट ने खुद इस पर जनहित याचिका दाखिल कर सचिव को तलब किया था.

मामला अब भी कोर्ट में है. हाईकोर्ट ने भी अपनी टिप्पणी में कहा था कि सरकार की एक अच्छी योजना को अधिकारियों ने बर्बाद कर दिया. न्यूज 18 की खबर के बाद कई स्कूलों में बच्चों के खराब जूते बदलने भी शुरू हो चुके हैं. वहीं दूसरी ओर वर्तमान सत्र के लिए आज खुलने वाले जूते-मोजे के टेंडर को अचानक आगे बढ़ा दिया गया है. अब यह टेंडर 14 मई को खुलेगा. टेंडर के लिए निविदा डालने की तिथि को भी बढ़ा दिया गया है. इस साल जूते-मोजे बांटने का टेंडर 352 करोड़ रुपये का है. हालांकि अधिकारी टेंडर की तिथि बढ़ाने का कारण नहीं बता रहे.

(रिपोर्ट: शैलेश अरोड़ा)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर