लाइव टीवी

शिक्षा विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी, आरोपी गिरफ्तार

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: December 8, 2017, 9:10 PM IST
शिक्षा विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी, आरोपी गिरफ्तार
पीड़ित लोग.

मऊ जनपद में शिक्षा विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है. इसको लेकर जिले में हडकम्प मचा हुआ है. ठगी करने वाले को गांव वालों ने पकड कर पुलिस के हवाले कर दिया है. आरोपी से पुलिस पुछताछ करने में जुटी है.

  • Share this:
मऊ जनपद में शिक्षा विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है. इसको लेकर जिले में हडकम्प मचा हुआ है. ठगी करने वाले को गांव वालों ने पकड कर पुलिस के हवाले कर दिया है. आरोपी से पुलिस पुछताछ करने में जुटी है.

जनपद के कोपागंज थाना क्षेत्र के डेकवारा गांव में शुक्रवार को उस समय हड़कंप मच गया जब देवेन्द्र नाम का शख्स गांव वालों से शिक्षा विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करके फरार होने की फिराक में था.

दरअसल, गांव वालों से उसने बताया था कि शिक्षा विभाग में उसके रिश्तेदारों की ऊंची पकड़ है जिसके तहत वह गांव के शिक्षित युवाओं को नौकरी दिलाने का काम करता है. गांव वाले उसकी बातों में आ गये और कई लोगों ने उसको लाखों रुपये दे दिए. इसके बदले आरोपी ने कुछ युवाओं को फर्जी नियुक्ति पत्र पकड़ा दिया.

नियुक्ति पत्र लेकर युवक जब ज्वाइन करने पहुंचे तो लोगों को पता चला कि ये पत्र फर्जी है. नौकरी नहीं मिलने पर गांव वाले देवेन्द्र का इन्तजार करने लगे. जैसे ही शुक्रवार को देवेन्द्र गांव में पहुंचा तो लोगों ने उसको पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर उसके खिलाफ में फर्जी नियुक्ति पत्र देने और लाखों रुपये की ठगी करने का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी.

पीड़ित महिला रीता देवी का कहना है कि उसने देवेन्द्र को डेढ़ लाख रुपये शिक्षा विभाग में बाबू के पद पर नौकरी दिलाने के नाम पर दिए थे लेकिन उसने कोई काम नहीं किया. हमारे अलावा और चार-पांच लोगों ने पैसा दिए हैं.

गांव के एक और शख्स ने बताया कि वह और उसके रिश्तेदार ने भी लाखों रुपये दिए थे लेकिन उसने कुछ नहीं किया. अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि थाने पर कई लोग आये हुए हैं जो देवेन्द्र नाम के युवक को पकड़ लाए हैं. इसने कई लोगों से लाखों रुपये लिए हैं.

(वेद मिश्रा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2017, 9:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर