• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • UP: 'लव जिहाद' को लेकर मऊ में 14 लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा, पुलिस ने शुरू की छापेमारी

UP: 'लव जिहाद' को लेकर मऊ में 14 लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा, पुलिस ने शुरू की छापेमारी

मऊ के अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी

मऊ के अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी

मऊ (Mau) के अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी ने बताया कि मोलनागंज गांव में दो समुदाय के लड़का और लड़की घर से भागे हुए हैं. लड़का पहले से ही शादी-शुदा है. पुलिस ने विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन अध्यादेश के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है.

  • Share this:
मऊ. उत्तर प्रदेश के मऊ (Mau) जिले के चिरैयाकोट थाने की पुलिस ने 14 लोगों के खिलाफ 'लव जिहाद' (Love Jihad) का मुकदमा दर्ज किया है. इसमें आईपीसी की धारा 366, 506 व 3/5 उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म सम्परिवर्तन अध्यादेश 2020 एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ. मुकदमा दर्ज करते ही पुलिस कार्रवाई में जुट गई है. आपको बता दें कि इससे पहले बरेली में जबरन धर्म परिवर्तन का दबाव देने को लेकर एक शख्स के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया है. इसके अलावा लखनऊ में भी पुलिस ऐसी एक शादी रुकवा चुकी है.

ताजा मामला मऊ के चिरैयाकोट थाना क्षेत्र में स्थित मोलनागंज गांव का है. यहां गांव के रहने वाले 2 समुदाय का लड़का और लड़की घर से भाग गए. पता चला कि लड़का पूर्व से ही शादीशुदा है और लड़की की अभी शादी नहीं हुई है. बताया जा रहा है कि लड़की की शादी 30 नवम्बर को होनी थी, शादी से एक दिन पूर्व लड़की लड़के के साथ भाग गई. मामले में परिवारवालों को जानकारी होते ही परिवार के लोग सकते में आ गए और पहले खुद जानकारी इकट्ठा कर पुलिस को सूचना दिया. लड़की के पिता की तहरीर पर देर रात पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर कानूनी करवाई में जुट गई है.



लड़का पहले से है शादी-शुदा
अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी ने बताया कि चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के मोलनागंज गांव में दो समुदाय के लड़के और लड़की घर से भागे हुए हैं. लड़का पहले से ही शादी-शुदा है, जिसमें पुलिस ने 366, 506 व 3/5 उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन अध्यादेश के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. पुलिस जांच कर मामले की कार्रवाई में जुट गई है. गौरतलब है कि पिछले सप्ताह ही यूपी कैबिनेट के 'लव जिहाद' रोकने को लेकर बनाए गए कानून को राज्यपाल आनंदी बेन ने मंजूरी दी है. उसके बाद से पुलिस लगातार ऐसी घटनाओं को रोकने में जुटी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज