Mau News: माफिया डॉन मुख्तार अंसारी के खिलाफ एक और मामला दर्ज, विधायक निधि के दुरुपयोग का है मामला

UP: माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ दर्ज  हुआ एक और मामला  (File Photo)

UP: माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ दर्ज हुआ एक और मामला (File Photo)

Case Against Mukhtar Ansari: आरोप के मुताबिक, मुख़्तार और उसके साथियों ने गुरु जगदीश सिंह बैजनाथ पहलवान विद्यालय के नाम फर्जी प्रस्ताव तैयार किया और विद्यालय का निर्माण दिखाकर विधायक निधि से भुगतान कराते रहे.

  • Share this:
मऊ. जेल में बंद माफिया डॉन मुख्तार अंसारी (Mfaia Don Mukhtar) समेत उनके सहयोगी आनंद यादव, बैजनाथ यादव और संजय सागर के विरुद्ध लखंसी थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोप है की इन लोगों ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर विधायक निधि का दुरुपयोग किया. आरोप के मुताबिक मुख़्तार और उसके साथियों ने गुरु जगदीश सिंह बैजनाथ पहलवान विद्यालय के नाम पर फर्जी प्रस्ताव तैयार किया और विद्यालय का निर्माण दिखाकर विधायक निधि से भुगतान कराते रहे.

उस समय बैजनाथ यादव ग्राम प्रधान थे. आरोप है कि बैजनाथ ने अपनी पत्नी के नाम से अवैध तरीके से प्रस्ताव पारित करा कर ग्राम समाज की भूमि को कृषि हेतु आवंटन करा लिया. इस पूरे खेल में उस समय पदस्‍थ रहे कई अधिकारी भी नप सकते हैं.

मुख़्तार के विधायक निधि से 25 लाख का भुगतान

जानकारी के अनुसार, साल 2006-2007 से वर्ष 2017-2018 के बीच बिना विद्यालय बनवाए ही मुख़्तार अंसारी की विधायक निधि से 25 लाख रुपए का भुगतान कर दिया गया. अब इस मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. बताया जा रहा है कि जिस तरह से बिना जांच किए ही विधायक निधि से अवैध तरीके से गलत दस्तावेज लगाकर रकम निकाली गई है, इसमें कई अधिकारियों पर भी गाज गिर सकती है.
जानें क्‍या है पूरा मामला

पुलिस के मुताबिक, इस मामले में अंतरराज्यीय गैंग आईएस-191 के सरगना मुख्तार अंसारी व उनके निकट सहयोगी आनन्द यादव, बैजनाथ यादव और संजय सागर के विरुद्ध कार्रवाई की जा रही है. पुलिस का कहना है की आनन्द यादव पुत्र बैजनाथ यादव निवासी साकिन सरवां थाना सराय लखंसी मऊ व उसके पिता बैजनाथ यादव पुत्र खुद्दी यादव द्वारा मुख्तार अंसारी व संजय सागर की सह पर फर्जी दस्तावेज तैयार करके गुरू जगदीश सिंह बैजनाथ पहलवान उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सरवां के नाम पर आराजी संख्या 1109 (रकबा 0.064 है), आराजी सं0-1449 (रकबा 0.196हे) पर विधायक मुख्तार अंसारी मऊ की विधायक निधि से वर्ष 2006-2007 से वर्ष 2017-2018 में 25,00,000 (पचीस लाख रुपये) बिना विद्यालय बनवाए ही प्राप्त कर लिया गया. आरोप है कि बैजनाथ यादव द्वारा स्वयं प्रधान रहते हुए अपनी पत्नी के नाम से अवैध तरीके से प्रस्ताव पारित कर ग्राम समाज की भूमि को कृषि हेतु आवंटन करा लिया गया.

इन धाराओं में दर्ज हुआ केस



अब पुलिस ने इस मामले में 24 अप्रैल को थाना सरास लखंसी, जनपद मऊ में आईपीसी की धारा 419/420/467/468/471/120बी के तहत आनन्द यादव, बैजनाथ यादव, बैजनाथ की पत्नी नाम अज्ञात, संजय सागर और मुख्तार अंसारी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज