मऊ: एक बच्चे की कराई डिलिवरी, दूसरे को पेट में ही छोड़ा, जच्चा-बच्चा की मौत

एक बच्चे की डिलिवरी अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा की गई. उसके बाद महिला को घर भेज दिया गया. घर जाते ही महिला को फिर से पेट में दर्द होना शुरु हो गया. जिसके बाद फिर से अस्पताल में वापस भर्ती कराया गया. यहां पता चला कि पेट में एक और बच्चा है, जिसकी मौत हो गयी है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 4:50 PM IST
मऊ: एक बच्चे की कराई डिलिवरी, दूसरे को पेट में ही छोड़ा, जच्चा-बच्चा की मौत
अस्पताल के बाहर बिलखते परिजन. Photo:L News 18
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 4:50 PM IST
उत्तर प्रदेश के मऊ जिले के कोपागंज थाने के अतरारी चंगी स्थित एक निजी हाॅस्पिटल में डिलिवरी के लिए जच्चा-बच्चा को भर्ती कराया गया. आरोप है कि चिकित्सक की लापरवाही से जच्चा और बच्चा दोनों की ही मौंत हो गयी. जिसके बाद परिजनों ने जमकर हंगामा काटा. बाद में हाॅस्पिटल प्रशासन ने मुआवजा दे कर मामला शान्त कराया.

थाने के सेनुराईच गांव निवासी हरेन्द्र ने अपनी पत्नी की डिलेबरी के लिए चार दिन पूर्व क्षेत्र के नैनसी हाॅस्पिटल में भर्ती कराया. यहां एक बच्चे की डिलिवरी अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा की गई. उसके बाद महिला को घर भेज दिया गया. घर जाते ही महिला को फिर से पेट में दर्द होना शुरु हो गया. जिसके बाद फिर से अस्पताल में वापस भर्ती कराया गया.

यहां पता चला कि पेट में एक और बच्चा है, जिसकी मौत हो गयी है. इस कारण महिला के शरीर में भी जहर फैल गया. हरेंद्र का कहना है कि आरोप है कि इलाज में देरी के कारण महिला की मौत हो गई. जिसके बाद परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाये हुए हंगामा करना शुरु कर दिया. साथ ही मुआवजे की मांग करने लगे.

मुआवजे की मांग पर हाॅस्पिटल के चिकित्सक डॉ. अरविन्द ने उनकी मांग को मान कर ढाई लाख रुपये मुआवजें के रुप में दिया. उन्होने बताया कि मौत के बाद परिजन हंगामा कर मुआवजे की मांग कर रहे थे. उनके हंगामें के रौद्र रुप को देख कर मांग पूरा कर दिया. चूंकि उनकी संख्या ज्यादा थी और उनके द्वारा हमारे कर्मचारीयों और अस्पताल को नुकसान ना पहुचें, इस लिए यह कदम उठाया गया.

वही इस मामलें पर अपर पुलिस अधीक्षक एसके श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस को सूचना मिला की जच्चा-बच्चा की मौंत हो गई है. पुलिस ने जांच किया है लेकिन परिजनों द्वारा किसी भी प्रकार की कोई शिकायत नही किया गया. पुलिस इस मामलें पर नजर बनाये हुए है.

(रिपोर्ट: आनंद मिश्रा)

ये भी पढ़ें: 
Loading...
कानपुर एक्सीडेंट का LIVE VIDEO: बीच सड़क वो हाथ जोड़े मदद मांगता रहा, लेकिन...

गाजियाबाद: कॉलेज के बाहर फायरिंग मामले में गिरफ्तार हुआ हिन्दू युवा वाहिनी का नेता
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर