लाइव टीवी

मेरठ मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में भर्ती है एक्टर रजनीकांत का अनोखा दीवाना
Meerut News in Hindi

Umesh Srivastava | News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 5:53 PM IST
मेरठ मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में भर्ती है एक्टर रजनीकांत का अनोखा दीवाना
मेरठ मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में भर्ती ये मरीज सबका ध्यान आकर्षित कर रहा है

मेरठ (Meerut) मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोविड का एक मरीज़ रजनीतकांत का इतना बड़ा फैन हैं कि उसने कोरोना वार्ड से ही रजनीकांत की फिल्म के एक गाने पर टिकटॉक वीडियो बनाया है. ये वीडियो आजकल मेरठ में ख़ूब वायरल हो रहा है.

  • Share this:
लखनऊ. सुनने में थोड़ा अटपटा लगता है कि कोविड-19 वार्ड (COVID-19 Ward) में कोई मरीज़ एक्टर रजनीकांत (Rajnikant) की दीवानगी दिखाएगा या फिर इस बीमारी से ल़ड़ेगा. लेकिन जनाब इस मरीज़ ने कोरोना जैसी बीमारी को मात देने के लिए एक्टर रजनीकांत की दीवानगी का सहारा लिया है.

रजनीकांत स्टाइल में बनाया टिकटॉक वीडियो हुआ वायरल

मेरठ मेडिकल कॉलेज में भर्ती कोविड का एक मरीज़ रजनीतकांत का इतना बड़ा फैन हैं कि उसने कोरोना वार्ड से ही रजनीकांत की फिल्म के एक गाने पर टिकटॉक वीडियो बनाया है. ये वीडियो आजकल मेरठ में ख़ूब वायरल हो रहा है. इस टिकटॉक वीडियो में ये मरीज़ रजनीकांत की फिल्म का एक डॉयलॉग बड़े स्टाइल में बोलता हुआ नज़र आ रहा है. जिस गीत के बोल कोरोना का ये मरीज़ गुनगुनाता हुआ नज़र आ रहा है, उसके बोल हैं- हिम्मत है तो सब एक साथ आओ.



रजनीकांत की दीवानगी देती है प्रेरणा: मरीज



इस शख्स का कहना है कि रजनीकांत की दीवानगी की बदौलत वो कोविड से फाइट कर रहा है और उसे पूरा यकीन है कि रजनीकांत की इस दीवानगी की बदौलत उसकी कोविड रिपोर्ट बहुत जल्द निगेटिव आ जाएगी. मेरठ के रोहटा का रहने वाला 30 साल का ये युवक कोरोना पॉज़िटिव है. मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड के बेड नम्बर 22 में ये भर्ती है. इस मरीज़ का कहना है कि एक दूसरे साथी मरीज़ के कहने पर उसने टिकटॉक वीडियो बनाया है. पिछले 15 दिनों से ये शख्स मेरठ के मेडिकल कॉलेज में भर्ती है.

साथी मरीजों को सिखा रहा योग, लिखता है भजन, कविताएं

बताया जाता है के ये मरीज़ पेशे से योगा प्रशिक्षक भी है. रोज़ाना ये मरीज़ कोविड वार्ड के दूसरे मरीज़ों को योगा भी सिखाता है. कोविड वार्ड में योगा सिखाते हुए उसकी कई फोटोज़ भी ख़ूब वायरल हो रहे हैं. इस मरीज़ ने कुछ भजन और कविताएं भी लिखी हैं, जो अन्य मरीज़ों को सुनाकर उनका हौसला बढाता है और ख़ुद का आत्मविश्वास भी बनाए रखता है.

डॉक्टर भी मरीज के हौसले की कर रहे तारीफ

वाकई में इस मरीज़ का आत्मविश्वास देखकर यही लगता है कि ये शख्स कोरोना को ज़रूर मात देगा. इस वार्ड में भर्ती अऩ्य मरीज़ अपने इस साथी की तारीफ करते नहीं थकते. यहां तक कि डॉक्टर भी इस मरीज़ के हौसले की तारीफ करते हैं.

अस्पताल में म्यूजिक थेरेपी से मिले लाभ

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले मेडिकल कॉलेज ने कोविड वार्ड में म्यूज़िक थेरेपी की शुरुआत भी की थी. डॉक्टरों का कहना है कि म्यूज़िक थेरेपी से मरीज़ों के आत्मविश्वास और रोग से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है. इस वार्ड में कई बार इंस्ट्रूमेंटल संगीत भी बजता रहता है, जिसका सीधा असर मरीज़ों की सेहत पर पड़ता है.

मेरठ में कोरोना के 349 हुए मरीज

गौरतलब है कि मेरठ में कोरोना मरीज़ों का आंकड़ा बढ़कर 349 हो गया है, जबकि यहां कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 21 हो गया है. राहत की बात ये है कि अब तक यहां 177 मरीज़ कोरोना को मात दे चुके हैं और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज भी किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें:

UP Weather Update: 22 से 25 मई तक भीषण गर्मी के साथ लू के थपेड़े

UP में रूरल प्रोजैक्ट शुरू करने और मजदूरों को रोजगार देने में पिछड़े 25 जिले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 5:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading