छुट्टी के बाद छात्र को क्लास में बंद कर गई टीचर, भूख-प्यास से चिल्लता रहा मासूम

टीचर के ध्यान ना देने के चलते कक्षा एक में पढ़ने वाला बच्चा छुट्टी होने के बाद क्लास रूम में ही बंद रह गया. भूख-प्यास से बेहाल बच्चा चिल्लता रहा लेकिन उसकी सुनने वाला कोई नहीं था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 8, 2019, 7:01 PM IST
छुट्टी के बाद छात्र को क्लास में बंद कर गई टीचर, भूख-प्यास से चिल्लता रहा मासूम
क्लासरूम में बंद हो गया जिगर
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 8, 2019, 7:01 PM IST
यूपी के मेरठ से एक टीचर की लापरवाही का मामला सामने आया है. टीचर के ध्यान ना देने के चलते कक्षा एक में पढ़ने वाला बच्चा छुट्टी होने के बाद क्लास रूम में ही बंद रह गया. भूख-प्यास से बेहाल बच्चा चिल्लता रहा लेकिन उसकी सुनने वाला कोई नहीं था. बाद में बच्चे को पुलिस ने ताला खोलकर निकाला.

ये पूरी घटना कुराली गांव की है. जहां 6 साल का जिगर गांव के प्राइमरी स्कूल में कक्षा 1 में पढ़ता है.  उसके तीन चचेरे भाई भी उसी स्कूल में पढ़ते हैं. मंगलवार दोपहर छुट्टी के बाद उसके तीनों भाई घर पहुंच गए, लेकिन वह नहीं पहुंचा. जिगर के घर नहीं आने से परेशान घरवालों ने उसे हर जगह तलाश किया पर वो नहीं मिला.

इसी दौरान विद्यालय में स्थित आंगनबाड़ी केंद्र पर कुछ महिलाएं पौष्टिक आहार लेने पहुंचीं. उन्हें बंद कमरे में बच्चे के रोने की आवाज सुनाई पड़ी. उन्होंने इसकी सूचना पुलिस और बच्चे के परिजनों को दी. इस पर बच्चे के पिता मनोज और दादी पुष्पा ग्रामीणों के साथ स्कूल पहुंचे, बच्चे को कमरे की खिड़की से पानी और खाने के लिए चिप्स दिए गए.

कानपुर में इस बाबा की हो रही चर्चा, 'मौत' के 4 घंटे बाद हुए थे जिंदा

इस पूरी घटना की सूचना परिजनों ने पुलिस को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रिंसिपल को सूचना दी. पुलिस के अनुसार बच्चे ने बताया कि वह क्लास में सो गया था. जब जागा तो दरवाजा बंद था. वहीं, परिजनों ने शिक्षकों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया. प्रिंसिपल ने बताया कि इस संबंध में अन्य शिक्षिकाओं से पूछताछ की जाएगी.

51 दिनों तक बंधक बनाकर किया दुष्‍कर्म, आरोपियों के चंगुल से छूटने पर बयां किया दर्द
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...