Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    गांधी जी की हत्या वाला पिस्टल सौंपने की मांग, अखिल भारत हिन्दू महासभा केन्द्र सरकार को लिखेगा पत्र

    हिन्दू महासभा इससे पहले मेरठ का नाम बदलकर गोडसे नगर रखने की मांग कर चुका है.
    हिन्दू महासभा इससे पहले मेरठ का नाम बदलकर गोडसे नगर रखने की मांग कर चुका है.

    हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि पत्र में ये मांग की जाएगी कि गांधी जी (Gandhiji) की हत्या वाला पिस्टल (Pistol) उसे सौंप दिया जाए. ताकि महासभा उसे अपने कार्यालय में नाथूराम गोडसे की प्रतिमा के पास रख सके.

    • Share this:
    मेरठ. अखिल भारत हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) का कहना है कि जिस पिस्टल से गांधी जी (Gandhiji) की हत्या की गई थी, उस पिस्टल (Pistol) को उसे सौंप दिया जाए. महासभा अपने कार्यालय में उस पिस्टल को रखना चाहता है. हिन्दू महासभा इससे पहले मेरठ का नाम बदलकर गोडसेनगर रखने की मांग कर चुका है. वहीं हापुड़ को अवैद्यनाथ नगर और गाज़ियाबाद को दिग्विजयनाथ नगर करने की भी मांग कर चुका है.

    हिन्दू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि महासभा बहुत जल्द इस सिलसिले में भारत सरकार को एक पत्र लिखेगा. पत्र में ये मांग की जाएगी कि गांधी जी की हत्या वाला पिस्टल उसे सौंप दिया जाए. ताकि महासभा उसे अपने कार्यालय में नाथूराम गोडसे की प्रतिमा के पास रख सके.

    महासभा का कहना है कि वो समस्त जनता को ये बताना चाहता है कि गांधी जी की हत्या नाथूराम गोडसे को क्यों करना पड़ा. इसके पीछे क्या कारण थे. महासभा ने रविवार को हवन-पूजन कर नाथूराम गोडसे और नाना आप्टे को याद किया.



    इससे पहले अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने कहा था कि हर हिन्दू को ये संकल्प लेना चाहिए कि अगर वह 100  रुपए कमाता है तो उसमें से 20 रुपए का हथियार खरीदे.
    अशोक शर्मा ने कहा कि सभी हिंदू देवी- देवताओं के पास शस्त्र होते हैं. ऐसे में हर हिन्दू को अपनी आत्मरक्षा के लिए शस्त्र रखना चाहिए. फिर चाहे वो त्रिशूल, गदा, लाठी-डंडा ही क्यों न हो.

    महासभा के मुताबिक बहन-बेटी की हिफाजत के लिए हथियार आवश्यक है. शास्त्रों की रक्षा के लिए शस्त्र उठाना आवश्यक है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज