शूटर दादी के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का कोरोना से निधन, अस्पताल में भर्ती थीं

शूटर दादी के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का कोरोना से निधन हो गया है.

शूटर दादी के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का कोरोना से निधन हो गया है.

उत्तर प्रदेश के बागपत की शूटर दादी चंद्रो तोमर का कोरोना से निधन हो गया है. चंद्रो तोमर पिछले कई दिनों से एक निजी अस्पताल में भर्ती थीं. उनके जीवन पर अनुराग कश्यप ने फिल्म 'सांड की आंख' बनाई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2021, 5:02 PM IST
  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के बागपत की शूटर दादी के नाम से मशहूर निशानेबाज चंद्रो तोमर (Chandro Toamr) भी कोरोना से जंग हार गईं. उनका आज यानि शुक्रवार को मेरठ के एक अस्पताल में दुखद निधन हो गया. 89 वर्षीय चंद्रो तोमर का पिछले कई दिनों से मेरठ के आनंद अस्पताल में इलाज चल रहा था. वह 26 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हो गई थीं और इसकी जानकारी उन्होंने खुद सोशल मीडिया के जरिये दी थी. सांस लेने में तकलीफ के चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

शूटर दादी के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर ने निशानेबाजी में नेशनल और राज्य लेवल पर कई पदक अपने नाम किये थे. शूटर दादी बागपत के जोहड़ी गांव की रहने वाली है. प्रख्यात फिल्मकार अनुराग कश्यप ने उनके जीवन पर आधारित एक फिल्म सांड की आंख का निर्माण किया और इसके जरिये उन्हें पूरी दुनिया में पहचान मिली. शूटर दादी चंद्रो के निधन से शोक की लहर है.

सोशल मीडिया पर उनकी सक्रियता लाजवाब थी. वह लगातार ट्विटर पर सक्रिय रहती थीं. उनके ट्विटर पर ये ट्वीट पिन है- जिसमें वह कश्मीर घूमने जाने की बात कर रही हैं. उन्होंने लिखा है कि “एक बार कम से कम जम्मू कश्मीर घूमना है कभी नहीं गयी। बता देना कब माहोल ठीक है। जाऊँगी ज़रूर.” सोशल मीडिया पर उन्हें लोग याद कर रहे हैं और उनके निधन पर अफसोस जता रहे हैं.

Shooter Dadi, famous Chandro Tomar, died from Corona, hospital, admitted, trouble breathing, Meerut, bull's eye, Anurag Kashyap, Bhumi Pednekar
भूमि पेडनेकर ने शूटर दादी को किया याद।

भूमि पेडनेकर ने भावुकता से याद किया 

सांड की आंख फिल्म में शूटर दादी का किरदार निभाने वाली भूमि पेडनेकर ने सोशल मीडिया पर लिखा कि 'चंद्रो दादी के निधन की खबर से हतप्रभ हूं. लगता है जैसे मेरा एक हिस्सा चला गया है. उन्होंने अपने नियम बनाए और कई लड़कियों को अपना सपना जीने के लिए प्रेरित किया. पेडनेकर ने लिखा कि 'दादी आप बहुत याद आएंगी, हमेशा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज