शिवपाल यादव का बड़ा ऐलान, यूपी की सभी 80 सीटों पर मोर्चा लड़ेगा चुनाव

शिवपाल ने कहा है कि वे समाजवादी पार्टी में उपेक्षित और सामान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ मिलकर वे चुनाव लड़ेंगे. इससे अब यह साफ हो चुका है कि उन्होंने अलग राह पकड़ ली है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2018, 2:56 PM IST
शिवपाल यादव का बड़ा ऐलान, यूपी की सभी 80 सीटों पर मोर्चा लड़ेगा चुनाव
बागपत में मीडिया से बातचीत करते शिवपाल सिंह यादव
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2018, 2:56 PM IST
बागपत पहुंचे शिवपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में समाजवादी सेक्युलर मोर्चा उत्तर प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगा. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी में उपेक्षित और सामान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ मिलकर वे चुनाव लड़ेंगे. शिवपाल के इस बयान के बाद कहा जा रहा है कि अब यह साफ हो चुका है कि उन्होंने अलग राह पकड़ ली है.

मीडिया से बातचीत में शिवपाल ने कहा, " समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन उन्होंने राष्ट्रीय एकता के लिए किया है. समाजवादी पार्टी के उपेक्षित, अपमानित और जो लोग हाशिए पर हैं, उन्हें एकजुट करके आगे की लड़ाई लड़ेंगे."

बिनोली के दरकावदा गांव में कार्येकर्ताओं के साथ मीटिंग के बाद शिवपाल मीडिया से बातचीत कर रहे थे. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की किस्मत बदलना ही इस सेक्युलर मोर्चे का उद्देश्य है. आने वाले चुनावों में सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. इसके लिए समान विचारधारा वाली पार्टी को एक साथ लेकर आएंगे. जब उनसे पूछा गया कि उनकी किससे मुखालफत है- समाजवादी पार्टी या फिर अखिलेश से, तो उन्होंने कहा कि उनकी किसी से मुखालफत नहीं है. वे उनकी लड़ाई लड़ रहे हैं, जो भी सपा में उपेक्षित और अपमानित हैं. इस मौके पर उनके साथ आचार्य प्रमोद कृष्णम भी मौजूद थे. आचार्य प्रमोद ने 2014 का चुनाव कांग्रेस के टिकट पर संभल से लड़ा था.

गौरतलब है कि बुधवार को शिवपाल यादव ने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का ऐलान किया था. उन्होंने कहा था कि समाजवादी पार्टी में उपेक्षित और अपमानित लोगों को इसमें जोड़ेंगे. शिवपाल का कहना था कि पार्टी में नेताजी (मुलायम सिंह यादव) का सम्मान न होने से आहत हूं. मुझे भी पार्टी में किसी भी मीटिंग में नहीं बुलाया जाता. इस मोर्चे से वे ऐसे सभी लोगों को जोड़ेंगे, जिनका अपमान हो रहा है. साथ ही इसके साथ क्षेत्रीय दलों को भी जोड़ने की बात कही.

ये भी पढ़ें:

शिवपाल के बागी तेवर से सपा में बढ़ी मुलायम की अहमियत, अगले कदम का इंतजार

ओमप्रकाश राजभर ने दी शिवपाल को ये नसीहत, बोले- 2024 तक बीजेपी के साथ

सीएम योगी के 'सांप' बयान पर विधानसभा में जमकर हंगामा, काली पट्टी बांधकर सदन पहुंचा विपक्ष

गोंडा: ट्विटर पर शेयर की धार्मिक उन्माद फैलाने के लिए फर्जी तस्वीर, केस दर्ज
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर