ये क्या... नेताजी ने होर्डिंग लगवाया- यदि आप स्वस्‍थ हैं तो मास्क पहनने की जरूरत नहीं

मेरठ में लगाया गया होर्डिंग जो अब चर्चा से ज्यादा विवाद का विषय बन गया है.

मेरठ में लगाया गया होर्डिंग जो अब चर्चा से ज्यादा विवाद का विषय बन गया है.

होर्डिंग पर विवाद होता देख इसे हटवाया गया, अब BJP के विधायक ने कहा कि अज्ञानता वश ऐसा लिख दिया गया है, नेताजी को पार्टी की तरफ से चेतावनी भी दी गई है. मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है.

  • Share this:

मेरठ. इन दिनों शहर में एक होर्डिंग काफी चर्चा का विषय बना हुआ है. ये होर्डिंग कोरोना (Corona) के संबंध में लोगों को जागरुक करने के लिए लगवाया गया लेकिन इसको देख कर ऐसा लग रहा है कि नेताजी को कोरोना के संबंध में ज्ञान कम है और वे लोगों को गुमराह कर रहे हैं. होर्डिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक के फोटो लगे हैं और उन्होंने खुद का भी एक बड़ा सा फोटो लगवाया है. इसके साथ ही उन्होंने जो चौंकाने वाली बात इस होर्डिंग पर लिखी है वो है कि यदि आप स्वस्‍थ हैं तो मास्क पहनने की आवश्यकता नहीं है.

खुद को बताया मण्डल मंत्री

ये होर्डिंग देवेंद्र भुरंडा ने लगवाया है और उन्होंने खुद को बीजेपी का मंडल मंत्री बताया है. इस होर्डिंग को जिसने भी देखा वो आश्चर्य में है. मास्क न लगाने की सलाह के साथ ही लिखा है कि यदि आपको खांसी, बुखार या सांस लेने मे कठिनाई है तो ही मास्क पहनें, अन्यथा मास्क की कोई आवश्यकता नहीं है. इस होर्डिंग के लगने के बाद अब खुद पार्टी के नेता सकते में हैं और इस पर सफाई दे रहे हैं.

गलती किसी से भी हो सकती है
मेरठ दक्षिण के विधायक सोमेंद्र तोमर ने कहा कि देवेंद्र भुरंडा से ये गलती अज्ञानता के कारण हो गई है. उन्होंने अपनी भूल को स्वीकार किया है और होर्डिंग को उतरवा लिया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देवेंद्र ने इसके लिए माफी भी मांगी है और पार्टी की तरफ से उन्हें चेतावनी भी दी गई है. तोमर ने कहा कि पार्टी के सभी लोग गाइडलाइंस का पालन करते हैं और मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य है. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि गलती किसी से भी हो सकती है.

जनता के बीच चर्चा का विषय

एक तरफ जहां केंद्र सरकार अज्ञैर राज्य सरकार लगातार लोगों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने के लिए प्रेरित कर रही है वहीं बीजेपी के ही एक नेता की ओर से लगवाया गया ये होर्डिंग शहर में चर्चा का विषय बन गया है. लोग आश्चर्य में हैं कि नेताजी मास्क न लगाने की सलाह इस समय में कैसे दे सकते हैं. खैर मामला बढ़ता देख आनन फानन में होर्डिंग को उतरवा लिया गया है और पार्टी नेताजी के इस काम को एक छोटी सी भूल बता रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज