बीजेपी ने कार्यसमिति की बैठक में बनाई मिशन 73+ की रणनीति, ये है पूरा प्लान

यूपी बीजेपी के अध्यक्ष महेंद्रनाथ पाण्डेय ने कार्यकर्ताओं को 2019 के लिए उत्तर प्रदेश में मिशन 73+ का टारगेट देते हुए 'फिर एक बार मोदी सरकार' का नारा दिया.

News18Hindi
Updated: August 12, 2018, 11:52 AM IST
बीजेपी ने कार्यसमिति की बैठक में बनाई मिशन 73+ की रणनीति, ये है पूरा प्लान
राज्य कार्यसमिति की बैठक
News18Hindi
Updated: August 12, 2018, 11:52 AM IST
पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ में बीजेपी की राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के अंतिम दिन रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शामिल होंगे. पहले दिन इसमें 2019 के संसदीय चुनावों में देशभर में 350 सीटों के लक्ष्य से जुड़ी रणनीतियों पर चर्चा हुई.

पहले दिन यूपी बीजेपी के अध्यक्ष महेंद्रनाथ पाण्डेय ने कार्यकर्ताओं को 2019 के लिए उत्तर प्रदेश में मिशन 73+ का टारगेट देते हुए 'फिर एक बार मोदी सरकार' का नारा दिया. उन्‍होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी को अगर 350 का आंकड़ा पार करना है तो उसे यूपी में 2014 वाला इतिहास दोहराना होगा.

यह भी पढ़ें: जो संसद की गरिमा नहीं रख सका वो PM बनने का सपना देख रहा है- राजनाथ सिंह

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के मेरठ पहुंचने पर प्रदेश अध्यक्ष डा. महेंद्रनाथ पाण्डेय उनके सामने संगठनात्मक गतिविधियों की रिपोर्ट पेश करेंगे. इसके अलावा लोकसभा चुनावों तक चलने वाले अभियानों और कार्यक्रमों का ब्योरा भी पेश किया जाएगा. आखिरी सत्र में 73 से अधिक सीटें जीतने और वोट प्रतिशत 51 प्रतिशत तक बढ़ाने के लक्ष्य पर यूपी के बीजेपी सांसदों और विधायकों के साथ अमित शाह विचार मंथन करेंगे.

यह भी पढ़ें: CM योगी का SP-BSP पर निशाना, पूछा-अब तक दलितों को क्यों नहीं मिलते थे घर?

कार्यसमिति की बैठक में पहुंचे सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को 2019 में मिशन 73+ के लक्ष्य को प्राप्त करने में अपना योगदान देने का आह्वान किया. इस मौके पर योगी ने उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकारों द्वारा निवेश और सुशासन का जिक्र करते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार विकास सबका करेगी, लेकिन तुष्टिकरण किसी का नहीं करेगी.

यह भी पढ़ें:  राम मंदिर कभी बीजेपी का चुनावी मुद्दा नहीं रहा: डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय
Loading...
मिशन 2019 की तैयारी के दौरान योगी ने विरोधियों द्वारा बीजेपी पर दलित विरोधी आरोपों पर भी जवाब दिया और कहा, 'विरोधी आरोप लगा रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार दलित विरोधी है. मैं पूछता हूं कि इसके पहले दलितों के बैंक अकाउंट क्यों नहीं खुल पाए थे? उनके घरों में रसोई गैस क्यों नहीं पहुंची? उनको गैस कनेक्शन क्यों नहीं मिल रहे थे?' योगी ने पूछा कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में दलितों और पिछड़ों को आरक्षण का लाभ क्यों नहीं मिल पाया?

ये भी पढ़ें:

अलीगढ़: आईपीएस अब्दुल हमीद बने AMU के नये रजिस्ट्रार

हमीरपुर: सड़क हादसे में भाजपा नेता सहित 3 लोगों की दर्दनाक की मौत

बस्ती फ्लाईओवर हादसे पर बोले अखिलेश, अपने भ्रष्टाचार की जांच के लिए बनाए स्थायी आयोग

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर