बीजेपी MLA संगीत सोम बोले- निजामुद्दीन जमात में शामिल लोगों से हो आतंकवादियों जैसा सलूक
Meerut News in Hindi

बीजेपी MLA संगीत सोम बोले- निजामुद्दीन जमात में शामिल लोगों से हो आतंकवादियों जैसा सलूक
बीजेपी विधायक संगीत सोम

बीजेपी के फायरब्रांड नेता संगीत सोम ने कहा कि कोरोना (Coronavirus) संकट के दौरान किए गए Lockdown में जमात का आयोजन एक सोची समझी साजिश है.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ के सरधना से बीजेपी विधायक (BJP MLA) संगीत सोम (Sangeet Som) ने दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुए तबलीगी जमात में शामिल लोगों के खिलाफ आतंकवादियों जैसा व्यवहार किया जाना चाहिए. बीजेपी के फायरब्रांड नेता ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान किए गए लॉकडाउन में जमात का आयोजन एक सोची समझी साजिश है.

तबलीगी जमात के आयोजन पर संगीत सोम ने पूछा कि कोरोना वायरस से बचने के लिए जहां इस समय पूरा देश घरों में है, तो ये लोग एक साथ क्या कर रहे थे? संगीत सोम ने कहा कि यह 'कोरोना आतंकवाद' है. एक साजिश के तहत जानबूझकर इन लोगों को विदेशों से भारत भेजा गया, ताकि इस महामारी को यहां फैलाया जा सके. बीजेपी विधायक ने इन सभी लोगों की जांच कर आतंकवादियों जैसा व्यवहार किए जाने की मांग की है.

संगीत सोम ने कहा, 'यह सोची समझी चाल है. ये मौलाना विदेशी ताकतों से मिलकर इस वायरस को देश में फ़ैलाने का काम कर रहे हैं. आपने देखा होगा अगर आतंकवादी ब्लास्ट करता था, तो कुछ लोगों का नुकसान होता था. लेकिन, इस वायरस के फैलने से बड़ा नुकसान होगा. यह सोची समझी साजिश के तहत की गई आतंकवादी गतिविधि है.'



साध्वी प्राची ने कही थी यह बात



उधर, हिंदूवादी नेता साध्वी प्राची ने भी निजामुद्दीन मरकज में शामिल लोगों को जेहादी और कोरोना बम बताया. उन्होंने एक वीडियो जारी कर बताया कि निजामुद्दीन तो महज एक झांकी है, देश में लाखों मस्जिदें और मदरसे हैं, जहां जेहादी कोरोना बम छिपे हुए हैं. साध्वी प्राची ने देश के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति से निवेदन किया कि इस तरह के मस्जिदों और मदरसों पर प्रतिबंध लगाया जाए.

ये भी पढ़ें:

UP के 569 लोग निजामुद्दीन की तबलीगी जमात में गए थे, सभी किए गए क्वारेंटाइन

आगरा: युवक की आत्महत्या मामले में राज्यमंत्री उदयभान सिंह की बहू पर FIR
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading