बागपत जेल में नहीं लगे थे CCTV, मिल सकते थे मुन्ना बजरंगी की हत्या के सुराग!

कुख्यात गैंगस्टर सुनील राठी ने 9 जुलाई की सुबह पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल के बैरक में गोली मारकर हत्या कर दी थी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 13, 2018, 10:09 AM IST
बागपत जेल में नहीं लगे थे CCTV, मिल सकते थे मुन्ना बजरंगी की हत्या के सुराग!
मुन्ना बजरंगी (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 13, 2018, 10:09 AM IST
माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के कुछ दिन बाद एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने गुरुवार को कहा कि 31 अगस्त की समय सीमा से पहले ही जेल में सीसीटीवी लगा दिए जाएंगे. गौरतलब है कि कुख्यात गैंगस्टर सुनील राठी ने 9 जुलाई की सुबह पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल के बैरक में गोली मारकर हत्या कर दी थी.

यदि बागपत जेल में सीसीटीवी लगे होते तो इस बारे में सुराग मिलता कि जेल में हथियार कैसे पहुंचा? रंगदारी मामले में पेशी को लेकर मुन्ना बजरंगी को झांसी जेल से बागपत जेल शिफ्ट किया गया था. अपर महानिदेशक (कारागार) चंद्र प्रकाश ने कहा कि इस समय उत्तर प्रदेश की दो जेलों बागपत और सोनभद्र में सीसीटीवी नहीं हैं.

जब उनसे यह पूछा गया कि यदि सीसीटीवी होता तो बजरंगी की मौत को लेकर काफी सुराग मिल सकते थे तो चंद्र प्रकाश ने कहा कि घटना बैरक के भीतर हुई है जहां सीसीटीवी नहीं लगाए जाते हैं. उन्होंने कहा कि जिस एजेंसी को सीसीटीवी लगाने के लिए अनुबंधित किया गया था, उसने पहले कहा था कि 30 जून तक यह काम पूरा हो जाएगा लेकिन बाद में उसने काम पूरा करने के लिए दो और महीने का समय मांग लिया.

ये भी पढ़ें - 

परिजनों को है मुख्तार अंसारी की सुरक्षा की चिंता, कहा- सरकार पर नहीं है भरोसा

...जब कई गोलियां खाने के बाद मॉर्च्युरी में 'जिंदा' हो गया था मुन्ना बजरंगी

मुन्ना बजरंगी पर रंगदारी मांगने का आरोप लगाने वाले पूर्व MLA लोकेश दीक्षित को बसपा ने पार्टी से निकाला
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर