लाइव टीवी

केन्‍द्र सरकार का फैसला, बजरंग दल के नेता विवेक प्रेमी से हटाया एनएसए

News18
Updated: January 7, 2016, 10:32 AM IST
केन्‍द्र सरकार का फैसला, बजरंग दल के नेता विवेक प्रेमी से हटाया एनएसए

  • News18
  • Last Updated: January 7, 2016, 10:32 AM IST
  • Share this:
केंद्र सरकार ने बजरंग दल के नेता विवेक प्रेमी पर से नेशनल सिक्यूरिटी एक्ट (एनएसए) हटाने का फैसला लिया है.

प्रेमी पर आरोप है कि उसने कथित तौर पर एक मुस्लिम का मुंह काला कर उसे शामली के भरे बाजार में घुमाया और मारा भी. जिसके बाद उसके ऊपर एनएसए लगाकर जून 2015 में जेल भेज दिया गया.

केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद से विवेक प्रेमी का जेल से निकलने की राह आसान हो जाएगी क्योंकि जैसे ही वह अन्य मामलों में बेल के अप्लाई करता है उसे जमानत मिल जाएगी.

इस संबंध में गृह मंत्रालय ने आदेश की कॉपी रेडियोग्राम ने 31 दिसम्बर को प्रदेश के गृह सचिव, शामली जिलाधिकारी, प्रेमी और मुज़फ्फरनगर जेल के अधीक्षक को भेज दिया है.

आपको बता दें कि उस घटना का विडियो वायरल होने के बाद तत्कालीन जिलाधिकारी ने प्रेमी के खिलाफ एनएसए लगा दिया था. विडियो में प्रेमी एक आदमी को सरेराह पीटते नजर आ रहे थे जिसके बाद इलाके में कम्युनल टेंशन उत्पन्न हो गयी थी.

घटना के बाद प्रेमी और अन्य बजरंग दल के लोगों का आरोप था कि मोहम्मद रियाज़ ने अद्रश मंदी से एक गाय के बछड़े को चुराकर ले जा रहा था. उनका आरोप था की रियाज़ उसे स्लॉटर हाउस लेकर जा रहा था. पिटाई के बाद रियाज़ को पुलिस के हवाले कर दिया गया था जहां से कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया.

रियाज़ के जेल भेजे जाने के बाद पुलिस ने प्रेमी और उसके पांच साथियों के खिलाफ इंडियन पैनल कोड की कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज उसे जेल भेज दिया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2016, 7:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...