होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

मेरठ लोकसभा सीट: 2014 में PM मोदी ने इस सीट से किया था चुनावी शंखनाद

मेरठ लोकसभा सीट: 2014 में PM मोदी ने इस सीट से किया था चुनावी शंखनाद

मेरठ रेलवे स्टेशन 
(फाइल फोटो)

मेरठ रेलवे स्टेशन (फाइल फोटो)

2011 के आंकड़ों के अनुसार मेरठ की आबादी करीब 35 लाख है, इनमें 65 फीसदी हिंदू, 36 फीसदी मुस्लिम आबादी है. मेरठ में कुल वोटरों की संख्या 1964388, इसमें 55.09 फीसदी पुरुष और 44.91 फीसदी महिला वोटर हैं.

    मेरठ उत्तर प्रदेश राज्य का एक शहर है, जो राजधानी दिल्ली से करीब 70-72 किलोमीटर दूर है. पिछले दो दशकों से ये सीट भारतीय जनता पार्टी का गढ़ मानी जाती रही है, 2014 के चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के अपने चुनाव प्रचार की शुरुआत यहां से ही की थी. इस बार 2019 के आम चुनाव के ऐलान के बाद भी पहली रैली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरठ से ही की है. 1857 में स्वाधीनता संग्राम की नींव रखने वाला शहर मेरठ पश्चिमी उत्तर प्रदेश की राजनीति का केंद्र माना जाता है. देश में हुए पहले लोकसभा चुनाव में यहां कांग्रेस का परचम लहराया, लेकिन 1967 में सोशलिस्ट पार्टी ने कांग्रेस को मात दी. 1990 के दौर में देश में चला राम मंदिर आंदोलन का मेरठ में सीधा असर दिखा और इसी के बाद ये सीट भारतीय जनता पार्टी का गढ़ बन गई.

    ये रहा आंकड़ा

    1991, 1996 और फिर 1998 में यहां से लगातार भारतीय जनता पार्टी के दबंग नेता अमरपाल सिंह ने जीत दर्ज की. उसके बाद 1999, 2004 में क्रमश कांग्रेस और बसपा ने यहां से बाजी मारी. हालांकि, 2009 और 2014 में फिर यहां भारतीय जनता पार्टी का परचम लहराया.




    rajendra-aggarwal
    बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल (File Photo)


    5 विधानसभा क्षेत्र

    इस निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत 5 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, इसमें किठौर, मेरठ, मेरठ कैंट, दक्षिण मेरठ और हापुड़ है. मेरठ का सर्राफा एशिया का नंबर एक का व्यवसाय बाजार है. इसके साथ ही खेल के सामान और कैंची के मशहूर मेरठ यूपी का दसवां निर्वाचन क्षेत्र है. साल 2014 में हुए लोकसभा चुनावों में बीजेपी की मजबूत दावेदारी को सभी ने देखा था, ऐसे में मेरठ लोकसभा सीट पर बीजेपी के प्रत्याशी राजेन्द्र अग्रवाल ने जीत का परचम लहराया था.

    35 लाख के करीब आबादी

    2011 के आंकड़ों के अनुसार मेरठ की आबादी करीब 35 लाख है, इनमें 65 फीसदी हिंदू, 36 फीसदी मुस्लिम आबादी है. मेरठ में कुल वोटरों की संख्या 1964388, इसमें 55.09 फीसदी पुरुष और 44.91 फीसदी महिला वोटर हैं. 2014 में यहां मतदान का प्रतिशत 63.12 फीसदी रहा. 1999 में ये सीट कांग्रेस के हाथ आ गई और अवतार सिंह भड़ाना यहां से एमपी चुने गए.

    avtar singh bhadana
    अवतार सिंह भड़ाना (File Photo)


    2004 में बहुजन समाज पार्टी के हाजी शाहिद अखलाक लोकसभा का चुनाव जीत के सांसद बने, 2009 में बीजेपी की वापसी हुई और राजेंद्र अग्रवाल सांसद की सीट पर बैठे और तब से अग्रवाल ही मेरठ के सांसद हैं.

    इन दावेदारों के बीच थी 2014 में टक्कर

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बैकग्राउंड से आने वाले सांसद राजेंद्र अग्रवाल मेरठ जैसी मुस्लिम बहुल सीट से लगातार दो बार सांसद चुनकर आए हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की आंधी चली थी. इसकी शुरुआत मेरठ से ही हुई थी. मेरठ में भारतीय जनता पार्टी को करीब 48 फीसदी वोट मिले थे. मेरठ में राजेंद्र अग्रवाल ने स्थानीय नेता मोहम्मद शाहिद अखलाक को दो लाख से अधिक वोटों से मात दी थी. इस सीट पर बॉलीवुड अभिनेत्री नगमा कांग्रेस की ओर से चुनाव लड़ी थीं, हालांकि उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

     

    आपके शहर से (मेरठ)

    Tags: BJP, Lok Sabha Election 2019, Meerut news, Pm narendra modi, RSS, Uttar Pradesh Lok Sabha Constituencies Profile, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh Politics, VHP, Yogi adityanath

    अगली ख़बर