अपना शहर चुनें

States

देश में आतंकवाद और अलगाववाद के लिए गांधीवाद जिम्मेदार: हिंदू महासभा

देश में आतंकवाद और अलगाववाद के लिए गांधीवाद जिम्मेदार
देश में आतंकवाद और अलगाववाद के लिए गांधीवाद जिम्मेदार

अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल का कहना है कि गांधी और बुद्ध की भूमि पर आकर डोनाल्ड ट्रम्प ने आतंकवादी बगदादी को मारने की बात कही थी.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) में गुरुवार को अखिल भारत हिन्दू महासभा (Akhil Bharat Hindu Mahasabha) ने महात्मा गांधी को लेकर विवादित बयान दिया है. अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा का कहना है कि कहा कि गांधीवाद देश में आतंकवादी घटनाओं के लिए जिम्मेदार है. अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने सीएए के विरोध को लेकर बीते दिनों हुई हिंसा का जिक्र करते हुए विवादित बयान दिया है. संगठन नेताओं ने कहा कि देश में आज जो भी राष्ट्र विरोधी गतिविधिया हो रही है, उनसे जुड़े लोग गांधीवादी होने का दावा करते हैं.

हिंदू महासभा के नेताओं ने कहा कि देश में बढ़ते आतंकवाद की वजह भी गांधीवाद ही है. संगठन के पदाधिकारियों ने राष्ट्रपति से सरकारी दफ्तरों में लगने वाले महात्मा गांधी के चित्रों प्रतिमाओं को तुरंत हटवाने की मांग की. साथ ही संगठन ने राष्ट्रपति से अनुरोध करते हुए देश को हिंदू राष्ट्र घोषित करने की बात कही. मेरठ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा और प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल ने यह विवादित टिप्पणी करते हुए कहा कि शाहीन बाग जैसे अलोकतांत्रिक धरने में शामिल लोग गांधी को आदर्श मानते हैं.

पदाधिकारियों का कहना है कि ये सभी लोग गांधी के पोस्टर लगाकर आंदोलन करते हैं. संगठन के पदाधिकारी यहीं नहीं रुके. उन्होंने कहा कि देश को खंडित करने का सपना देखने वालों के रोल मॉडल गांधी हैं. अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि भारत का टुकड़े टुकड़े गैंग गांधी को अपना आदर्श मानता है. अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि देश के अंदर अब गांधीवाद से काम नहीं चलेगा.



अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल का कहना है कि गांधी और बुद्ध की भूमि पर आकर डोनाल्ड ट्रम्प ने आतंकवादी बगदादी को मारने की बात कही थी. ट्रम्प की तारीफ करते हुए हिन्दू महासभा ने कहा कि आतंकवादी बगदादी को मारकर वो अपनी ताकत दुनिया को दिखाते हैं. और ये संदेश देते हैं कि कैसे कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से निपटा जाए. उन्होंने कहा कि तो फिर हम ऐसी नीतियों को क्यों नहीं फॉलो करते हैं? हिन्दू महासभा के पदाधिकारियों ने राष्ट्रपति से गुहार लगाई कि देश की एकता अखंडता को तोड़ने वालों के साथ भी ऐसे ही सुलूक करना चाहिए.
ट्रम्प की तारीफ करते हुए हिन्दू महासभा के पदाधिकारियों ने कहा कि उन्होंने अपने भाषण में कट्टर इस्लामी आतंकवादी का भी जिक्र किया था. जब ट्रम्प भारत की महान भूमि पर आकर बगदादी को मारकर अपनी ताकत का अहसास दिलाते हैं तो हम उनसे क्यों नहीं सीखते?

ये भी पढ़ें:

शिक्षामित्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, होली से पहले मिल जाएगा बकाया मानदेय
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज