Home /News /uttar-pradesh /

delhi meerut rrts know where the construction work of rapid rail stations reached

Meerut RRTS: परतापुर स्टेशन का निर्माण अंतिम चरण में, जल्द तैयार होगा स्टेशन

Delhi–Meerut RRTS: दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ में आरआरटीएस के कुल 25 स्टेशन हैं, जिसमें 13 स्टेशन मेरठ में ही हैं. मेरठ साउथ स्टेशन से लोकल मेट्रो की सेवा प्रारंभ होगी, जो कि परतापुर, रिठानी, शताब्दी नगर, ब्रह्मपुरी, मेरठ, बेगमपुल होती हुई जाएगी. वहीं एलिवेटेड होकर एमईएस कॉलोनी, दौराला, मोदीपुरम होते हुए मोदीपुरम डिपो तक जाएगी. मोदीपुरम डिपो में ट्रेनों के रखरखाव का प्रबंध किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- विशाल भटनागर
    मेरठ: अब मेरठ से दिल्ली तक का सफर रैपिड ट्रेन (Delhi–Meerut RRTS) से मिनटों में जल्द ही तय होगा. इसको लेकर तैयारियां तीव्र गति से चल रही हैं. मेरठ में पहला स्टेशन परतापुर में एक सप्ताह के अंदर बनकर तैयार हो जाएगा. जी हां! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस प्रथम भारतीय रीजनल रेल प्रोजेक्ट का शिलान्यास वर्ष 2019 में किया था, वह अब जमीन पर दिखाई देने लगा है. एक तरफ जहां ट्रैक बिछाने का कार्य तीव्र गति से चल रहा है, वहीं दूसरी ओर स्टेशनों का कार्य पूरा करने पर भी जोर दिया जा रहा है.

    सुदर्शन मशीन बना रही है तेजी से सुरंग
    भूमिगत ट्रेन चलाने के लिए सुरंग बनाने का कार्य भी तीव्र गति से चल रहा है. बोरिंग मशीन (सुदर्शन) गांधी पार्क से बेगमपुल तक 700 मीटर तक सुरंग का निर्माण कर रही है. इतना ही नहीं आरआरटीएस नेटवर्क पर बनाई जा रही टनल का व्यास 6.5 मीटर होगा.

    मेरठ के 13 स्टेशनों पर दौड़ेगी मेट्रो और रैपिड रेल
    एनसीआरटीसी के अनुसार, दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ में आरआरटीएस के कुल 25 स्टेशन हैं, जिसमें 13 स्टेशन मेरठ में ही हैं. मेरठ साउथ स्टेशन से लोकल मेट्रो की सेवा प्रारंभ होगी, जो कि परतापुर, रिठानी, शताब्दी नगर, ब्रह्मपुरी, मेरठ, बेगमपुल होती हुई जाएगी. वहीं एलिवेटेड होकर एमईएस कॉलोनी, दौराला, मोदीपुरम होते हुए मोदीपुरम डिपो तक जाएगी. मोदीपुरम डिपो में ट्रेनों के रखरखाव का प्रबंध किया जाएगा.

    परतापुर स्टेशन की खासियत
    परतापुर एक एलिवेटेड स्टेशन है, जिसे ग्राउंड, कॉनकोर्स और प्लेटफ़ार्म लेवल पर बनाया जा रहा है. यात्रियों की सुविधा के लिए ग्राउंड लेवल पर स्टेशन में आने और जाने के दो प्रवेश और निकास द्वार होंगे. इनमें एस्केलेटर और लिफ्ट्स लगाई जाएंगी. ग्रिड कॉनकोर्स लेवल पर यात्रियों के लिए सुरक्षा जांच किओस्क और टिकट काउंटर के अलावा प्लेटफार्म लेवल पर जाने के लिए एएफ़सी (ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन) गेट की सुविधा होगी.

    इसके साथ ही यहां यात्री केंद्रित सुविधाएं जैसे आधुनिक सूचना डिस्प्ले बोर्ड ऑडियो-वीडियो सहित), स्टेशन के आसपास के प्रमुख स्थान दर्शाने वाले सिस्टम मैप, सीसीटीवी कैमरे, अग्निशामक प्रणाली और वॉशरूम आदि जैसी सुविधाएं शामिल होंगी. इसी लेवल से यात्री सीढ़ियों, लिफ्ट या एस्केलेटर की मदद से प्लेटफ़ार्म पर जाकर अपने गंतव्य स्थान के लिए ट्रेन ले सकते हैं. हालांकि एमआरटीएस ट्रेनें आरआरटीएस कॉरिडोर के बुनियादी ढांचे पर ही चलेंगी, जिसके तहत परतापुर स्टेशन पर आरआरटीएस ट्रेनों के लिए अलग निर्धारित ट्रैक बनाए जाएंगे. लेकिन इस स्टेशन पर आरआरटीएस ट्रेनों का स्टॉप नहीं होगा.

    Tags: Delhi-Meerut RRTS Corridor, Meerut news, UP news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर