• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • मेरठ बुलेटिन :-प्राचीन शिव मंदिर जहां गाय करती थी महादेव का दुग्धाभिषेक

मेरठ बुलेटिन :-प्राचीन शिव मंदिर जहां गाय करती थी महादेव का दुग्धाभिषेक

प्राचीन

प्राचीन शिव मंदिर में भोले बाबा की शिवलिंग

किला परीक्षित गढ़ के प्राचीन शिव मंदिर की खासियत यही है कि इस मंदिर में छह फुट नीचे जाकर भोले बाबा की शिवलिंग बनी हुई है.

  • Share this:

    मेरठः-भारत (india) में आपको भोले बाबा के प्राचीन मंदिर अनेकों मिल जाएंगे. जिनसे भक्तों की आस्था और मान्यताएं जुड़ी हुई है.हम आज आपको एक ऐसे प्राचीन शिव मंदिर के बारे में बताएंगे जहां गाय माता स्वतः महादेव के शिवलिंग पर दुग्धाभिषेक करती थी.इस शिवालय से भक्तों की काफी आस्था जुड़ी हुई है. जी हां पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ (meerut) से 25 किलोमीटर दूर किला परीक्षितगढ़ में गांधारी तालाब के पास एक प्राचीन शिव मंदिर (shiva temple)है. इस मंदिर में एक नहीं दो शिवलिंग बनी हुई है.

    राजा नैन सिंह ने कराया था प्राचीन शिव मंदिर का निर्माण
    मंदिर के पुजारी बताते हैं कि राजा नैन सिंह द्वारा इस मंदिर का निर्माण कराया गया था. क्योंकि यहां पर भोले बाबा की शिवलिंग खुद ही प्रकट हुई थी. जोकि आज भी मंदिर में विराजमान है. हालांकि वर्षो पूर्व आई बाढ़ में शिवलिंग का आधा हिस्सा बह गया था. इसी बात को देखते हुए एक अन्य शिवलिंग भी मंदिर में लगाई गई. लेकिन भक्तों की आस्था प्राचीन शिवलिंग में ज्यादा देखने को मिलती है .

    काली गाय करती थी भोले बाबा का दुग्धाभिषेक
    हमारी भारतीय संस्कृति में पुरानी मान्यताओं का काफी महत्व है. इसी तरीके से इस प्राचीन मंदिर का भी महत्व है कि जब ग्वाला अपनी गायों को चराने के लिए आते थे.उन गायों में से एक काली गाय प्रतिदिन भोले बाबा की शिवलिंग पर अपने दूध से दुग्धाभिषेक करती थी. आसपास के क्षेत्र वासियों ने न्यूज़ 18 लोकल की टीम से बातचीत करते हुए बताया कि दूरदराज से भी भक्त भोले बाबा के इस प्राचीन मंदिर में दर्शन करने के लिए आते हैं.

    मंदिर का निर्माण सबसे विशेष
    भगवान भोलेनाथ के अनेकों विशाल मंदिर देखने को मिलेगी. लेकिन यह मंदिर बिल्कुल प्राचीनता को दर्शाता है. मंदिर का गर्भ गृह लगभग छह फुट नीचे है. भक्त कई सीढ़ियों को पार करते हुए भगवान भोलेनाथ की शिवलिंग तक पहुंचते हैं. उसके बाद भोले बाबा का जलाभिषेक करते हैं. मान्यता है की जो भक्ति भोले बाबा का जलाभिषेक करता है. उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज