Home /News /uttar-pradesh /

मेरठ: डॉ. पुनीत भार्गव ने किया ब्लैक फंगस के तीन मरीज़ों के सफल ऑपरेशन का दावा

मेरठ: डॉ. पुनीत भार्गव ने किया ब्लैक फंगस के तीन मरीज़ों के सफल ऑपरेशन का दावा

मेरठ: डॉ. पुनीत भार्गव ने ब्लैक फंगस का किया इलाज, ऑपरेशन से ठीक होने लगे मरीज.

मेरठ: डॉ. पुनीत भार्गव ने ब्लैक फंगस का किया इलाज, ऑपरेशन से ठीक होने लगे मरीज.

डॉक्टर पुनीत भार्गव ने कोरोना से ठीक हुए मरीजों में ब्लैक फंगस के लक्षण पाए. नाक की जांच की तो उसमें नाक के टिश्यूज काले रंग के पड़े मिले. ब्रेन का कंट्रॉस्ट एमआरआई कराया. डॉक्टर का दावा है कि उन्होंने इन मरीजों का ढाई से तीन घंटे तक दूरबीन विधि से ऑपरेशन किया. जिससे ब्रेन की तरफ बढ़ रही बीमारी को रोका जा सका.  

अधिक पढ़ें ...
मेरठ. ब्लैक फंगस ( Black Fungus) को लेकर मेरठ ( Meerut ) के डॉक्टरों ने बड़ी सफलता हासिल की है. यहां तीन मरीज़ों का सफल ऑपरेशन करने का दावा किया गया है. निजी अस्पताल के सीनियर डॉक्टर पुनीत भार्गव ( Puneet Bhargava ) का कहना है कि कोरोना के तीन मरीज ठीक होकर अस्पताल से घर चले गए थे, लेकिन तीन दिन बाद तीनों ही मरीज की एक एक आंख की रोशनी चली गई थी. डॉक्टर ने बताया कि उन्होंने नाक की जांच की तो उसमें नाक के टिश्यूज काले रंग के पड़े मिले. ब्रेन का कंट्रॉस्ट एमआरआई कराया फिर एक इंजेक्शन इन मरीजों को दिया. डॉक्टर का दावा है कि उन्होंने इन मरीजों का ढाई से तीन घंटे तक दूरबीन विधि से ऑपरेशन किया. जिससे ब्रेन की तरफ बढ़ रही बीमारी को रोका जा सका.

डॉक्टर का कहना है कि ये एक तरह का फंगस है जो ब्लैक कलर का आता है. सामान्य रुप से ये हवा में मौजूद रहता है. लेकिन आम आदमी की इम्यूनिटी होती है इसलिए अटैक नहीं करता, जबकि कोविड के पेशेंट में इम्यूनिटी कम हो जाती है. जिससे ये फंगस ऐसे मरीजों को प्रभावित करता है. डॉक्टर का कहना है कि कोविड के मरीज में शुगर कंट्रोल करना बेहद जरूरी होता है. डॉक्टर का कहना है कि ये बीमारी बहुत तेजी से आंख की रोशनी को खा जाती है और ब्रेन तक पहुंच जाती है.

डॉक्टर पुनीत भार्गव का कहना है कि इस फंगस के बढऩे की गति कितनी तेज है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि एक शख्स के अंदर एक आंख में ही तकलीफ थी, लेकिन अड़तालीस घंटे के अंदर दूसरी आंख में भी इन्फेक्शन फैल गया. डॉक्टर ने दोनों साइड का ऑपरेशन किया. डॉक्टर का दावा है कि तीनों मरीजों का ऑपरेशन सफल रहा है. आंखों की रोशनी भी ठीक हुई है. इन मरीजों की आंखों की पुतली भी अब चल रही है और उम्मीद की जाती है कि जल्दी ही ये रिकवर हो जाएंगे. डॉक्टर ने बताया कि इन तीन मरीजों का सफल ऑपरेशन हो चुका है. लेकिन ब्लैक फंगस के दो और मरीज उनके अस्पताल में भर्ती हो गए हैं. अब उनका इलाज किया जा रहा है.

वरिष्ठ ईएनटी सर्जन डॉ. पुनीत भार्गव की टीम ने तीनों का ऑपरेशन किया है. डॉक्टरों के अनुसार, यह कोबलेटर, माइक्रोडेब्राइडर और माइक्रोडिल की आधुनिक मशीनों द्वारा एंडोस्कोपिक विधि से संभव हो सका. डॉ. पुनीत भार्गव ने बताया, यह संक्रमण त्वचा से शुरू होकर शरीर के अन्य भागों तक फैल सकता है. कई बार जबड़ा या आंख तक निकालनी पड़ सकती है. गौरतलब है कि मेरठ में म्यूकरमाइकोसिस यानि ब्लैक फंगस के मामले बढक़र सोलह हो गए हैं. इनमें तीन मरीजों का सफल ऑपरेशन हो गया है. वहीं मेरठ के अन्य निजी अस्पताल में पांच और एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज में तीन मरीज ब्लैक फंगस के भर्ती हैं. ब्लैक फंगस से यहां दो मरीजों की मौत भी हो चुकी है.

Tags: Black Fungus, Corona patient, Dr. Puneet Bhargava, उत्तर प्रदेश, ब्लैक फंगस, मेरठ

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर