कोरोना का शिकार बने परिवार की अनोखी पहल, मरीजों के लिए बना दिया फ्री दवा बैंक

कोरोना मरीजों के लिए मुफ्त दवा बैंक बनाया, घर पर बची दवाओं को एकत्रित कर शुरू किया वितरण का सिलसिला.

कोरोना मरीजों के लिए मुफ्त दवा बैंक बनाया, घर पर बची दवाओं को एकत्रित कर शुरू किया वितरण का सिलसिला.

कोरोना मरीजों को मुफ्त दवा देने के लिए अनोखे दवा बैंक की शुरूआत की गई है. एक शख्स के पूरे परिवार को जब कोरोना हुआ तो उसके पास दवाईयों का अंबार लग गया. कोरोना को मात देने के बाद इन्होंने बची दवाओं के साथ दूसरे परिवारों को प्रेरित कर दवाओं का बैंक तैयार कर दिया.

  • Share this:

मेरठ. कोरोनाकाल में एक से बढक़र एक योद्धा लोगों की मदद में जुटे हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए मेरठ ( Meerut ) के एक शख्स ने दवाईयों ( Medicine) का बैंक बना दिया. इस दवा बैंक ( Medicine Bank ) में उपलब्ध मेडिसिन लोगों को निशुल्क दी जाती है. इस शख्स के पूरे परिवार को जब कोरोना हुआ तो उसके पास दवाईयों का अंबार लग गया. कोरोना को मात देने के बाद इस परिवार ने सोचा कि क्यों न इन दवाओं को जरूरतमंदों को निशुल्क दिया जाए.

इन्होंने अपना नम्बर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया कि अगर लोगों को दवाओं की जरूरत है तो उनसे संपर्क कर सकते हैं. उसने पहल की कि अगर किसी भी व्यक्ति के पास घर पर रखी हुई दवाईयां खराब हो रही हैं तो वो भी उनके मेडिसिन बैंक में जमा कर सकते हैं. बस फिर क्या देखते ही देखते कारवां बन गया. आज की तारीख में मेडिसिन बैंक में दवादाताओं का तांता लग गया और मंहगी दवा न खरीद पाने वालों का भला हो गया.

विजय पंडित का कहना है कि शुरुआत में जब उनके परिवार को कोरोना हुआ था. उन्होंने आयुर्वेदिक एलोपैथिक होम्योपैथिक दवाएं भी खरीद डालीं. जब तक वो कोरोना से जंग लड़ते रहे तब तक डॉक्टर जो भी दवा बताते उसे हफ्तों के हिसाब से वो खरीद लेते. उनका परिवार जब ठीक हो गया तो उन्होंने देखा कि उनके घर पर दवाओं का जखीरा जमा हो गया, जिसकी उपयोगिता उनके लिए नहीं थी. उन्होंने सोचा कि अभी जब उनके घर पर इतनी दवाईयां बच गई हैं तो पता नहीं कितने ऐसे घर होंगे जिनके घर में दवाईयां सड़ रही होंगी. उन्होंने मेडिसिन बैंक बनाने की ठानी. परिवार के सदस्य बताते हैं कि कई दवाईयां तो ऐसी हैं जो खासी महंगी हैं. जिन्हें खरीद पाने में बहुत लोग सक्षम नहीं हंै, इसलिए वो दवादान कर लोगों की जिंदगी बचाना चाहते हैं. इस परिवार ने महंगी दवाईयां लोगों को निशुल्क देकर एक मिसाल कायम की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज