Home /News /uttar-pradesh /

वेट लिफ्टिंग में गोल्ड मेडल लेकर मेरठ लौटीं सृष्टि चौधरी, बेटी का सत्कार देख भर आईं पिता की आंखें

वेट लिफ्टिंग में गोल्ड मेडल लेकर मेरठ लौटीं सृष्टि चौधरी, बेटी का सत्कार देख भर आईं पिता की आंखें

वेट लिफ्टिंग में सोना जीतकर लौटी किसान की बेटी सृष्टि चौधरी का गांव में भव्य स्वागत.

वेट लिफ्टिंग में सोना जीतकर लौटी किसान की बेटी सृष्टि चौधरी का गांव में भव्य स्वागत.

Farmer Daughter Gold Medal Winner: एक बार फिर खेल की दुनिया में मेरठ की बेटी ने कमाल किया है. मेरठ के एक छोटे से गांव की सृष्टि चौधरी ने 199 किलोग्राम का वेट लिफ्ट कर गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया. वे ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप में गोल्ड जीतकर लौटीं तो पूरा गांव उनके स्वागत के लिए उमड़ पड़ा. यह देख उनके पिता की आंखें भर आईं.

अधिक पढ़ें ...

मेरठ. एक बार फिर खेल की दुनिया में मेरठ (Meerut) की बेटी ने कमाल किया है. मेरठ के एक छोटे से गांव की सृष्टि चौधरी (Srishti Choudhary) ने 199 किलोग्राम का वेट लिफ्ट कर गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया. ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप में सोने का तमगा लेकर लौटी इस बेटी के लिए पूरा गांव स्वागत में उमड़ पड़ा. ढोल नंगाड़े के साथ जब इस बिटिया का स्वागत हो रहा था तो शुरुआत में तो लोगों ने समझा ये चुनावी शोर है. कोई नेता आने वाला होगा, लेकिन जब लोगों ने मेडल जीतकर लौटी चैंपियन को देखा तो उसे फूल माला पहनाने वालों की होड़ लग गई. बेटी के स्वागत को देखकर किसान पिता की आंखें भर आईं. पिता ने बेटी को पढ़ाने के साथ खेलने का भी पूरा मौका देने की बात कही.

ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी टूर्नामेंट में हिस्सा लेने आंध्र प्रदेश के गुंटुर गई सृष्टि चौधरी ने वेट लिफ्टिंग 71 किलोग्राम वर्ग में गोल्ड मेडल जीता है. 199 किलोग्राम का वेट लिफ्ट कर इस बेटी ने गोल्ड मेडल पर कब्ज़ा किया. सृष्टि ने बताया कि आंध्र के गुंटूर में सत्ताइस से तीस दिसम्बर तक ऑल इंडिया टूर्नामेटं आयोजित हुआ था. इस प्रतियोगिता में देश की अलग अलग यूनिवर्सिटी के खिलाड़ी पहुंचे थे. मेरठ के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन सेकेंड ईयर की छात्रा सृष्टि ने यूपी स्टेट यूनिवर्सिटी टूर्नामेंट में भी गोल्ड जीता था और अब ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी टूर्नामेंट में भी गोल्ड ही जीता.

दोनों मेडल लेकर जब बेटी पहुंची तो उसके चेहरे की ख़ुशी देखते ही बन रही थी. बिटिया बार-बार मुस्कुराते हुए सभी को दिखा रही थी. सृष्टि का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरठ को खेल विश्वविद्यालय का तोहफा दे रहे हैं. इससे वो बेहद ख़ुश हैं और उन्हें कोटि कोटि धन्यवाद देती है. सृष्टि आगे इंडिया रिप्रेजेंट करना चाहती है. एक छोटे से गांव सैनी की रहने वाली बिटिया की ख्वाहिश है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ओल्मिपक के पटल पर देश का तिरंगा शान से लहराए.

किसान पिता बेटी का स्वागत देखकर रो पड़े. बेटी को जब आम लोग चौराहे पर फूल माला पहना रहे थे. तो उनकी आंखे ख़ुशी से छलक उठीं. पिता ने बताया कि वो एक किसान हैं और तंगहाली और तमाम आलोचनाओं के बीच उन्होंने खेल की दुनिया में बेटी का नाम रोशन करने की ठानी है. बेटी उनकी उम्मीदों को पंख दे रही है. पिता ने कहा कि टेलेंट के साथ इंसाफ होना चाहिए. पिता ने कहा कि अब जबकि मेरठ में खेल विश्वविद्यालय का तोहफा मिल रहा है तो अब कीचड़ में कमल खिलेगा मुरझाएगा नहीं.

उन्होंने कहा कि मेरठ खेल प्रतिभाओं का कुंभ है. सरकार खिलाड़ियों की बेहतरी के लिए जो प्रयास कर रही है उसका वो स्वागत करते हैं. चैंपियन बिटिया के पिता ने कहा कि सृष्टि ओलम्पिक में पदक जीतकर देश को गौरवान्वित करेगी.

Tags: All India University Championship, Farmer Daughter Gold Medal Winner, Meerut news, Srishti Choudhary, UP news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर