लाइव टीवी

मेरठ: बाप बनता था फर्जी इंस्पेक्टर और बेटा सिपाही, 5 साल में दिया 100 से ज्यादा लूट को अंजाम

NIKHIL AGARWAL | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 28, 2019, 5:40 PM IST
मेरठ: बाप बनता था फर्जी इंस्पेक्टर और बेटा सिपाही, 5 साल में दिया 100 से ज्यादा लूट को अंजाम
मेरठ में गिरफ्तार लुटेरे बाप बेटे

मेरठ पुलिस (Meerut Police) के अनुसार गिरफ्तार आरोपी बाप-बेटे 15 जिलों से वांछित भी चल रहे हैं. इनमें ऊधमसिंह नगर, बरेली, हरिद्वार, रुड़की, मुरादाबाद, अलीगढ़ में भी पता चला है कि ये लोग बाहर से आने वाले सर्राफा कारोबारियों को पुलिस बनकर चेकिंग के नाम पर डराते-धमकाते थे और फिर उनका सामन लूटकर रफूचककर हो जाते थे.

  • Share this:
मेरठ. बाप नंबरी तो बेटा 10 नंबरी फिल्म के बारे में तो सभी ने सुना होगा ऐसा ही एक मामला पश्चिम उत्तर प्रदेश के जनपद मेरठ में सामने आया है. यहां एक बाप विनोद कुमार शर्मा और बेटा विवेक कुमार शर्मा फर्जी पुलिस बनकर लोगों से ठगी करते थे. इन्होंने 5 सालों के दौरान 100 से ज्यादा वारदातों को पुलिस के वेश में अंजाम दिया. मेरठ की थाना देहली गेट पुलिस ने इन शातिर लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया है.

मामला मेरठ के थाना देहली गेट से सामने आया है. यहां कुछ दिनों पहले सर्राफा कारोबारी से ठगी की गई थी. सर्राफा कारोबारियों ने पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. वर्दीवाले लुटेरों का ये मामला मेरठ पुलिस के लिए चुनौती बन गया था. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इस तरह के मामले खंगाले गए. कई जिलों से जब इस तरह की वारदात के इनपुट मिलने लगे. जिसके बाद पुलिस ने अपना जाल बिछाया और पुलिस के हत्थे जब दोनों बाप-बेटे चढ़े तो पता चला कि दोनों पर पहले से ही 25 मुकदमे दर्ज हैं.

15 जिलों से चल रहे हैं वांछित

आरोपी बाप-बेटे 15 जिलों से वांछित भी चल रहे हैं. इनमें ऊधमसिंह नगर, बरेली, हरिद्वार, रुड़की, मुरादाबाद, अलीगढ़ में भी पता चला है कि ये लोग बाहर से आने वाले सर्राफा कारोबारियों को पुलिस बनकर चेकिंग के नाम पर डराते-धमकाते थे और फिर उनका सामन लूटकर रफूचककर हो जाते थे.

कई सर्राफा कारोबारी भी रडार पर

पता चला कि पुलिस की वर्दी में बाप इंस्पेक्टर का रोल अदा करता था, वहीं बेटा सिपाही बनता था. पुलिस ने दोनों के कब्जे से 1 किलो चांदी और 40 हजार रुपये भी बरामद कर लिए हैं. इस मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी मेरठ अजय साहनी ने बताया कि इन दोनों की क्राइम कुंडली खंगाली जा रही है. साथ ही इन दोनों के साथ कुछ सराफा व्यवसायी भी जुड़े हैं. जो व्यापारी के आने की सूचना देकर पहले इनके माध्यम से लुटवाते थे और फिर मोटे मुनाफे के लालच में लूट का माल खरीदते थे. पुलिस अब ऐसे लोगो पर भी शिंकजा कसने की तैयारी में है.

ये भी पढ़ें:
Loading...

खनन घोटाला: सीबीआई का सपा सरकार में हुए 14 पट्टों पर मुख्य फोकस

AMU गोलीकांड में खुलासा: नशे को लेकर हुई रंजिश में छात्र को मारी गई थी गोली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 5:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...