यूपी में महिला मरीज का फिल्मी स्टंट, 40 फीट उंचे फाइप से फिसली और भाग निकली
Meerut News in Hindi

यूपी में महिला मरीज का फिल्मी स्टंट, 40 फीट उंचे फाइप से फिसली और भाग निकली
महिला का फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

महिला के अस्पताल से भागने के फोटो सोशल मीडिया (Social Media) में वायरल (Viral) होने के बाद मेरठ मेडिकल कॉलेज (Meerut Medical College) के प्रिंसिपल ने कहा कि ये महिला मंदबुद्धि है. पुलिस को सूचित कर दिया गया है. 

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) में एक महिला मरीज के अस्पताल से फरार होने का मामला सामने आया है. महिला मरीज की ये हरकत किसी शख्स ने कैमरे में भी कैद कर ली. बताया जा रहा है कि महिला मरीज तकरीबन चालीस फीट उंचे पाइप से रेंगकर उतरी और फरार हो गई. अब जो भी इस वायरल फोटो (Viral Photo) को देख रहा है वो हैरान हो रहा हैं कि आखिर एक महिला कैसे इतने उंचे पाइप से उतरकर फरार हो सकती है. सवाल ये भी है कि एक मरीज के इस तरह से फरार होने के पीछे वजह क्या है. महिला का अस्तपाल से फरार होने वाला ये फोटो सोशल मीडिया (Social Media) पर तेजी से वायरल हो रहा है. महिला के इस फिल्मी स्टंट को देखर लोग भी हैरान हैं.

इस वायरल फोटो के लेकर मेरठ मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल एसके गर्ग का कहना है कि यह महिला मंदबुद्धि है. यह 6 तारीख को यहां भर्ती हुई थी. उन्होंने बताया कि इससे पहले भी यह महिला 14 तारीख को मेडिकल कॉलेज से भाग चुकी है. प्रिंसिपल ने बताया कि महिला दूसरी मंजिल के वार्ड से पाइप के सहारे उतरी और फरार हो गई. प्रिंसिपल का कहना है कि महिला की तलाश जारी है. और इस बारे में पुलिस को भी सूचित कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: बिहार में भीड़ ने 4 नाबालिगों का कराया मुंडन, 5 हजार भी वसूला, VIDEO VIRAL



पहले भी वायरल हो चुका है वीडियो
प्रिंसिपल एसके गर्ग का कहना है कि महिला मंदबुद्धि है, इसलिए आदतन वो दूसरी बार फरार हो गई. प्रिंसिपल के इस बयान से उनकी लाचारी भी साफ झलक रही है क्योंकि अगर ये महिला एक बार फरार हो चुकी थी तो आखिर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने उस पर ध्यान क्यों नहीं दिया? ये एक गंभीर सवाल है.
इससे पहले भी मेरठ मेडिकल कॉलेज के कई वीडियो वायरल हुए हैं जो यहां की कार्यशैली पर सवाल उठाते रहे हैं. आपको बता दें कि कुछ दिन पहले कोरोना मरीजों का ब्लड सैंपल छीनकर एक बंदर पेड़ पर जा बैठे थे. जो कोरोना मरीज के ब्लड सैंपल को नोच-नोचकर पेड़ के नीचे फेंक रहे थे. इस घटना ने मेडिकल कॉलेज की खूब किरकिरी हुई थी. कोरोना वार्ड के भी कई वीडियो यहां वायरल हो चुके हैं. ऐसे में अब पाइप के सहारे महिला मरीज़ का इस तरह से पाइप के सहारे उतरकर भाग जाना यकीनन यहां की कार्यप्रणाली पर गंभीर सवाल खड़ा करता है. देखने वाली बात होगी कि आखिर ये महिला कब तक रिकवर की जाती है. उम्मीद की जानी चाहिए कि अगर इस बार महिला मिलती है तो उसका इलाज सही ढंग से होगा और फरार होने की नौबत मेडिकल कॉलेज प्रशासन अब नहीं होने देगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज