एशियाई खेलों में वेस्ट UP का जलवा, बागपत के गौरव ने जीता शूटिंग में कांस्य पदक

गौरव के पिता ने बताया कि उसने निशानेबाजी की प्रैक्टिस पहले भड़ल में शुरू किया था. इसके बाद वह बड़ौत की रेंज पर जाने लगा. बेहतर खेल को देखते हुए साल 2016 में खेल कोटे से उसका चयन एयरफोर्स में हो गया.

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 3, 2018, 11:17 AM IST
एशियाई खेलों में वेस्ट UP का जलवा, बागपत के गौरव ने जीता शूटिंग में कांस्य पदक
निशानेबाज गौरव राणा
Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 3, 2018, 11:17 AM IST
इंडोनिशया में चल रहे एशियाई खेलों में भारत के लिए शूटर्स पदक  पर निशाना लगा रहे हैं.  इसमें बड़ा योगदान वेस्ट यूपी का भी है. इसी कड़ी में बागपत के रहने वाले निशानेबाज गौरव राणा ने 50 मीटर पिस्टल में देश को दो पदक दिलाएं. टीम वर्ग की स्पर्धा में स्वर्ण और व्यक्तिगत स्पर्धा में कांस्य पदक मिला है. उसकी इस कामयाबी के बाद गांव में खुशी का माहौल है. बता दें कि इंडोनिशया में चल रहे एशियाई खेलों में मेरठ के शूटर्स पदक पर निशाना लगा रहे हैं. इससे पहले सौरभ कुमार और शार्दूल विहान ने रजत पदक जीता था. जकार्ता में चल रहे 18वें एशियाई खेल में मेरठ के निशानेबाजों ने अब तक स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक जीतकर अपना झंडा वेस्ट यूपी में बुलंद किया है.

निरपुड़ा गांव के रहने वाले गौरव के पिता के किसान है. जैसे ही गौरव को पदक मिला परिवार में खुशी का माहौल छा गया. पिता के अलावा माता वीरमति देवी, बहन गुरमीत, शैली और भाई विशाल ने गौरव की कामयाबी पर खुशी मनाई. गौरव के पिता ने बताया कि उसने निशानेबाजी की प्रैक्टिस पहले भड़ल में शुरू किया था. इसके बाद वह बड़ौत की रेंज पर जाने लगा. बेहतर खेल को देखते हुए साल 2016 में खेल कोटे से उसका चयन एयरफोर्स में हो गया. बेटे ने मेहनत जारी रखी, जिसकी बदौलत उसे आज कामयाबी हासिल हुई.

गौरव राणा के परिजन


गौरतलब है कि वीर शाहमल शूटिंग रेंज बिनौली बागपत के निशानेबाजों का गढ़ कहा जाता है. इससे पूर्व भी कई अंतराष्ट्रीय व राष्ट्रीय चैंपियनशिप में गौरव राणा उम्दा प्रदर्शन कर एकेडमी का नाम देश-विदेशों में रोशन कर चुका है.

यह भी पढ़ें:

ट्विटर पर शिवपाल यादव ने बदला अपना प्रोफाइल, समाजवादी से हुए सेक्यूलर

चित्रकूट: गंगा-कावेरी एक्सप्रेस को हाईजैक कर 6 बोगियों में लूटपाट, 4 यात्री घायल
Loading...
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी: तीन हजार जवानों के हाथ में होगी 'बांके बिहारी' की सुरक्षा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर