Hathras Case: हिंदू महासभा ने कहा- ड्रामेबाज नेताओं को लगाओ 50 कोड़े, आरोपियों को मारो ऑन द स्पॉट गोली

अखिल भारत हिंदू महासभा का यू ट्यूब चैनल
अखिल भारत हिंदू महासभा का यू ट्यूब चैनल

अखिल भारत हिन्दू महासभा (All India Hindu Mahasabha) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा का कहना है कि नोएडा में फोटो खिंचवाने वाले नेताओं को कोड़े लगाने चाहिए और आरोपियों को गोली मार देनी चाहिए.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड (Hathras Kand)  के बाद पूरे देश का गुस्सा फूट पड़ा. मेरठ में अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने हाथरस केस को जघन्य कांड बताया है. पंडित अशोक शर्मा ने कहा कि ड्रामेबाज राजनीतिज्ञों को 50-50 कोड़े लगाए जाने चाहिए. उन्होंने कहा कि नोएडा में फोटो खिचंवाने वाले ड्रामेबाज राजीनीतिज्ञों को पचास पचास कोडे़ मारे जाएं. पंडित अशोक शर्मा ने तल्ख लहजे में कहा कि लॉ एंड ऑर्डर को खतरे में डालने वाले राजनीतिज्ञों को पचास पचास कोड़े मारे जाएं और ऐसी ड्रामेबाज पार्टियों को ज़ब्त कर देना चाहिए.

पंडित अशोक शर्मा ने नाम लेकर कहा कि राहुल गांधी और अखिलेश यादव ड्रामा कर रहे हैं. उन्हें हाथरस  जाकर पीड़ितों से मिलना ही था तो एक प्रतिनिधिमंडल भेजना चाहिए, न कि नोएडा में जाकर लेट जाना चाहिए. पंडित अशोक शर्मा यहीं पर नहीं रुके. उन्होंने कहा कि हाथरस में बच्ची के साथ दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है. ऐसे आरोपियों को ऑन द स्पॉट गोली मार देनी चाहिए.

यू ट्यूब चैनल लॉन्च



इससे पहले अखिल भारत हिन्दू महासभा ने नाथू राम गोड़से को लेकर यू ट्यूब चैनल लांच किया. इस यू ट्यूब चैनल का नाम दिया गया 'हर हर गोड़से घर घर गोडसे'. अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि इस यू ट्यूब चैनल के माध्यम से जनता को बताया जाएगा कि गांधी जी को गोड़से ने क्यों मारा. अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि शास्त्र के अनुसार शस्त्र उठाना जरूरी है.


ये भी पढ़ें: Bihar Assembly Election 2020: महागठबंधन में सस्पेंस खत्म!, कांग्रेस-RJD इतने सीटों पर लड़ेगी चुनाव

समाजवादी पार्टी का प्रदर्शन

इधर, हाथरस कांड और किसान बिल को लेकर समाजवादी पार्टी ने शुक्रवार को गांधी जयंती के मौके पर लखनऊ में पैदल मार्च निकला. पार्टी नेताओं का लक्ष्य था कि वो हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर जाकर मौन व्रत रखेंगे और सत्याग्रह करेंगे. विरोध प्रदर्शन को देखते हुए मुख्यमंत्री चौराहे भारी संख्या में फोर्स तैनात की गई थी. वहीं प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए विक्रमादित्य मार्ग बंद करा दिया गया. इस दौरान राजभवन जाने वाली सड़क भी बंद करा दी गई थी. सपा के सभी एमएलए और एमएलसी पार्टी कार्यालय पर जुटे और पैदल मार्च शुरू किया. इस दौरान राजभवन चौराहे पर उन्हें पुलिस ने रोक दिया. उधर पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर गांधी प्रतिमा की तरफ सपा विधायकों के हो रहे मार्च को रोक दिया. इस दौरान नेता विपक्ष राम गोविंद चौधरी और प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल की काफी देर तक पुलिस से नोकझोंक होती रही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज