Home /News /uttar-pradesh /

मेरठ: CM भूपेश बघेल पर भड़की हिंदू महासभा, कहा- 'वीर सावरकर को याद करना भगवान के दर्शन करने जैसा'

मेरठ: CM भूपेश बघेल पर भड़की हिंदू महासभा, कहा- 'वीर सावरकर को याद करना भगवान के दर्शन करने जैसा'

मेरठ: 30 जनवरी अस्त्र- शस्त्रों का प्रशिक्षण देगी हिंदू महासभा.

मेरठ: 30 जनवरी अस्त्र- शस्त्रों का प्रशिक्षण देगी हिंदू महासभा.

Meerut News: मेरठ में अखिल भारत हिंदू महासभा ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने कहा - 'वीर सावरकर अपने जीवनकाल में कभी गांधी जी से नहीं मिले. 1925 में तो वीर सावरकर काला पानी की सज़ा काट रहे थे. वीर सावरकर को याद करना भगवान के दर्शन करने जैसा है.'

अधिक पढ़ें ...

मेरठ. मेरठ (Meerut) में अखिल भारत हिंदू महासभा ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा ने कहा कि वीर सावरकर (Veer Savarkar) अपने जीवनकाल में कभी गांधी जी से नहीं मिले. 1925 में तो वीर सावरकर काला पानी की सज़ा काट रहे थे. क्या 27 वर्ष बाद जेल से क्या कोई माफी मांगकर निकलेगा. अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा कहते हैं वीर सावरकर को याद करना भगवान के दर्शन करने जैसा है, क्योंकि वो सावरकर से मिले थे. पंडित अशोक शर्मा ने कहा कि माफी मांगने की बात क्यों प्रचारित की जाती है. इसके लिए लगता है कि कांग्रेस कटिबद्ध है.

अखिल भारत हिंदू महासभा ने ये भी ऐलान किया है कि 30 जनवरी से मेरठ शहर स्थित कार्यालय पर गोडसे और आप्टे के नाम से प्राचीन अस्त्र शस्त्र ज्ञानशाला खोली जाएगी. इसमें अखाड़े चलाने वाले गुरु के माध्यम से प्राचीन अस्त्र शस्त्रों से हिन्दू युवाओं को ट्रेन किया जाएगा. उन्होंने बताया कि अपने परिवार की अपने समाज की आत्म रक्षा करने के लिए ये शस्त्र ज्ञानशाला खोली जा रही है. अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि पांच साल के बच्चे से लेकर पैंतालिस तक के शख्स को तलवार भाला गदा लाठी डंडे चलाना सिखाया जाएगा.

इससे पहले हिंदू महासभा ने अपने कार्यालय पर अश्विन मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या के दिन वर्ष 1947 के बंटवारे में मारे गए लोगों की आत्माओं को नमन करते हुए तर्पण एवं श्रद्धांजलि विसर्जन का कार्यक्रम आयोजित किया था. कार्यक्रम का संचालन करते हुए अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रदेश प्रवक्ता ने कहा था कि 1947 के बंटवारे के वक्त करोड़ों लोग बेघर हुए थे. लाखों बहन-बेटियों को बेघर होना पड़ा था. न जाने कितने लोग असमय काल के गाल में समा गए थे. उन्हीं को याद करते हुए आज पितृपक्ष की अमावस्या के दिन सभी अनाम महान आत्माओं को नमन करते हुए तर्पण श्रद्धांजलि अर्पित की गई.

वरुण गांधी के नाम जारी किया खुला पत्र
मेरठ स्थित अखिल भारत हिंदू महासभा की तरफ से सांसद वरुण गांधी के नाम एक खुला पत्र भी जारी किया गया था. इस पत्र में वरुण गांधी की उस बात का जिक्र किया गया है, जिसमें उन्होंने कहा था की नाथूराम गोडसे जिंदाबाद कहने वाले हमें शर्मसार कर रहे हैं. हिंदू महासभा की तरफ से कहा गया कि वो सस्ती और ओछी राजनीति न करें.

Tags: Bhupesh Baghel, Hindu Mahasabha, Meerut news, Uttar pradesh news, Veer Savarkar Controversy

अगली ख़बर